Saturday , February 23 2019
Loading...

एक होमगार्ड ने बनाया शानदार एप, जाने क्या है इस एप की खास बात

महाराष्ट्र होमगार्ड ने अपने कर्मचारियों की तैनाती में पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए वेब आधारित एक एप्लीकेशन विकसित किया है. एक वरिष्ठ ऑफिसर ने बताया कि एप से बल में, कार्यसे बचने वाले लोगों की पहचान करने  उन्हें बाहर करने में भी मदद मिलेगी. ऑफिसर के मुताबिक, एप्लीकेशन से सुनिश्चित हो सकेगा कि होम गार्ड जवानों की ड्यूटी आवंटित करने में कोई पक्षपात नहीं होगा.
Image result for एक होमगार्ड ने बनाया शानदार एप

शीर्ष ऑफिसर ने बताया, ‘‘इस वर्ष फरवरी में अपने यहां ही इसे तैयार करने का कार्य प्रारम्भ हुआ था  अब यह लगभग पूरा हो गया है. परीक्षण के दौरान एप को संतुष्टिप्रद माना गया है. आने वाले समय में इसे औपचारिक रूप से प्रारम्भ किया जाएगा.’’

राज्य होमगार्ड के महानिदेशक संजय पांडे ने ‘पीटीआई’ को बताया, ‘‘विभाग में व्याप्त कुछ खामियों पर विचार करते हुये हमने तकनीक की मदद लेने  अपना खुद का सॉफ्टवेयर तैयार करने का फैसला लिया जिससे ना केवल पूरे महाराष्ट्र में औनलाइन रिपोर्टिंग  तैनाती के काम का केंद्रीकरण होगा बल्कि तैनाती में भी पारदर्शिता आएगी.’’

loading...