Wednesday , September 26 2018
Loading...
Breaking News

मुकुल रॉय ने लगाया ममता बनर्जी पर गंभीर आरोप कहा- 1200 करोड़ की मालकिन हैं ‘दीदी’

कुछ महीने पहले ही तृणमूल कांग्रेस पार्टी छोड़कर में शामिल हुए मुकुल रॉय ने पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी पर गंभीर आरोप लगाए हैं कभी ममता की करीबी रहे मुकुल ने उनके पास अकूत संपत्ति होने का आरोप लगाया है मुकुल रॉय ने आरोप लगाया है कि ममता बनर्जी ईमानादरी की प्रतीक बनती हैं, लेकिन उनके पास 1200 करोड़ रुपए की संपत्ति है उन्होंने आरोप लगाया कि दो दिन पहले ममता बनर्जी के परिवार का एक व्यक्तिगत प्रोग्राम था, जिसमें मेहमानों को बुलाने के लिए भेजे गए एक निमंत्रण लेटर की मूल्य 400 रुपए थी

Image result for मुकुल रॉय ममता बनर्जी

बीजेपी नेता यहीं नहीं रुके, उन्होंने पश्चिम बंगाल के IAS  IPS अधिकारियों से बोला कि वे ईमानदारी से कार्य करना प्रारम्भ कर दें उन्होंने कहा, ‘राज्य के IAS  IPS अधिकारी ईमानदारी से कार्य करना प्रारम्भ कर दें पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी का राज अब केवल तीन वर्ष बचा है, आप लोगों को  भी नाकरी करनी है ‘

Loading...

मुकुल रॉय ने बोला कि नवंबर के महीने से लोकसभा निर्वाचन के लिए मॉनिटरिंग प्रारम्भ होगीबंगाल में जो कुछ भी चल रहा है उसका भाजपा विरोध भी करना जानती है  बदला लेना भी भाजपाऐसे चलने नहीं देगी दीदी ने घोड़े ख़रीदे हैं, लेकिन थोड़ा देख के खरीदिये दीदी अन्यथा मारी जाएंगीआपने बहुत घोड़े खरीदे हैं, मगर अंत में उस शिव घोड़े से कुछ नहीं होगा भाजपा ने जहां-जहां सभा की है, तृणमूल भी वहीं सभा कर रही है  आज जहां सभा हमने की है वहीं देखना अब तृणमूल भी सभा करेगी

loading...

मुकुल रॉय ने तृणमूल कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाया कि वह पश्चिम बंगाल में परिवर्तन लाने में नाकाम रही है रॉय ने लोगों से अपील की कि वे भाजपा में शामिल हों बता दें CM ममता बनर्जी के पूर्व करीबी सहायक रॉय दिल्ली में पिछले हफ्ते भाजपा में शामिल हुए थे उन्होंने पार्टी के राज्य ऑफिस में संवाददाताओं से कहा, ‘जिस परिवर्तन के लिये हम लड़े वह हासिल नहीं हुआ है लेकिन लोग परिवर्तन चाहते हैं  भाजपा विकल्प है ’

मुकुल रॉय ने बोला कि यह उनका सौभाग्य है कि उन्हें पीएम नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में कार्य करने का मौका मिला है मुकुल रॉय ने बोला कि मेरा पूरा विश्वास है कि भाजपा के समर्थन के बिना तृणमूल कांग्रेस पार्टी बंगाल में सत्ता में नहीं पहुंच सकती थी 1998 में वह भाजपा के साथ मिलकर लोकसभा का चुनाव लड़ी, 1999 में तृणमूल राजग की सहयोगी बनकर चुनाव लड़ी  ममता जी वाजपेयी गवर्नमेंट में मंत्री भी बनी उन्होंने बोला कि भाजपा साम्प्रदायिक नहीं बल्कि धर्मनिरपेक्ष ताकत है  आने वाले समय में वह बंगाल में सत्ता में आयेगी

Loading...
loading...