Thursday , September 20 2018
Loading...

सावन में शिवजी को यह क्या चढाने आये भक्त?

सावन का महीना प्रारम्भ हो गया है  देशभर के शिवमंदिरों में ईश्वर शिव की आराधना की जा रही है हर मंदिर की अपनी अलग परंपरा होती है जहां अलग-अलग रीती रिवाज निभाए जाते हैं ऐसे ही बात करें शिव मंदिर की तो आज एक ऐसे शिव मन्दिर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में आप नहीं जतने होंगे शिव मंदिर में ईश्वर शिव को खुश करने के लिए कुछ न कुछ अर्पित किया जाता है एक लेकिन एक मंदिर ऐसा भी है जहाँ पर ईश्वर शिव को सिर्फ झाड़ू चढाई जाती है इसके पीछे भी एक कारण है

Image result for सावन में शिवजी को झाड़ू चढाने आये भक्त

दरअसल, ये मंदिर यूपी के मुरादाबाद के गांव बीहजोई पातालेश्वर नाम का प्राचीन शिव मंदिर है जहाँ पर भक्त उन्हें झाड़ू चढ़ाते हैं, आम तौर पर सभी ईश्वर शिव को धतूरा  बेल लेटर चढ़ाते हैं लेकिन यहां रिवाज कुछ अलग ही है यहां के लोगों का मानना है कि शिव लिंग पर झाड़ू चढाने से कई मुरादें पूरी होती हैं  बड़ी बात ये है कि वहां के लोग ये मानते हैं ऐसा करने से स्किन से जुड़ी हर कठिनाई दूर होती है इसी कारण यहां लोग दूर-दूर से आते हैं  ईश्वर शिव को झाड़ू चढ़ाते हैं जिनसे उनकी भी स्किन की कठिनाई दूर होती है

Loading...

इसके पीछे एक कहानी है  सावन के महीने में भी कई लोग यहां जाते हैं  पूजा पाठ के दौरान झाड़ू भी चढ़ाते हैं यहाँ के पुजारी का कहना है कि ये मंदिर करीब 150 वर्ष पुराना है  झाड़ू चढाने की प्रथा कई वर्षों से चली आ रही है जिसे भक्त आज भी मानते हैं इसकी कथा कुछ ऐसी है –

loading...

यूपी के इसी गाँव में इस गाँव में एक अमीर रहता था जिसे स्कीन से जुड़ा रोग हो गया था जिसका उपचार सम्भव नहीं हुआ जब ये अमीर उपचार के जा रहा था तो मंदिर में जा कर एक महंत से टकरा गया जो झाड़ू मार रहा था इसी से टकरा कर उसका चर्म रोग अच्छा हो गया जिसके बाद उसने ये मंदिर बनवाने की सोची जिसके बाद ये मन्दिर प्रचलित हो गया  आज भी लोग यहाँ पर झाड़ू चढ़ाने आते हैं

Loading...
loading...