Saturday , February 16 2019
Loading...

आंदोलनकारियों ने पेट्रोल पंप पर लगाई आग, मचा बवाल

महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण आंदोलन समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है. मराठवाड़ा के परभणी, हिंगोली  नांदेड़ जिलों में तोड़फोड़  हिंसा की घटनाए हुईं. आंदोलनकारियों ने परभणी में दो पेट्रोल पंप में तोड़फोड़ की  चक्काजाम कर दिया. इतना ही नहीं उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव भी किया.जिसमें 13 पुलिसकर्मी घायल हो गए. भीड़ को भगाने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी.
Image result for आंदोलनकारियों ने पेट्रोल पंप पर लगाई आग, मचा बवाल

वहीं नांदेड़ के पिंपलगांव में प्रह्लाद कल्याणकर ने फांसी लगाकर आत्महत्या करने की प्रयास की.उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यहां भीड़ ने एंबुलेंस  सरकारी बसों को आग के हवाले कर दिया. इन सभी घटनाओं के बाद प्रदेश के CM देवेंद्र फणनवीस ने मामले को जल्द सुलझाने के लिए विधानसभा में सर्वदलीय मीटिंग बुलाने की बात कही है. उन्होंने आंदोलनकारियों से शांति बनाए रखने  पुलिस पर पथराव ना करने की अपील भी की है.

विपक्षी दलों ने मराठा आरक्षण आंदोलन का समर्थन किया है. सर्वदलीय मीटिंग में विपक्ष ने गवर्नमेंट से जल्द ही इस मुद्दे को सुलझाने के लिए बोला है. राज्य में बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने CM के रवैये की निंदा की है. उसका कहना है कि इस मसले को सुलझाने के लिए ग्रामीण विकास राज्य मंत्री पंकजा मुंडे को एक घंटे के लिए CM बनाया जाना चाहिए.

मुंडे ने बीड जिले में आंदोलनकारियों को संबोधित करते हुए बोला था कि यदि आरक्षण वाली फाइल उनके पास आई होती तो वह आरक्षण देने में एक मिनट भी नहीं लगातीं. राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष  पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार ने कोल्हापुर में धरना दे रहे आंदोलनकारियों से मुलाकात की. पवार पहली बार मराठा आरक्षण आंदोलनकारियों के मंच पर पहुंचे. वह पहले ही आंदोलनकारियों को अपनी पार्टी का समर्थन देने की बात कह चुके हैं.

loading...