Thursday , September 20 2018
Loading...

120 दिन रहेगा इस चन्द्र ग्रहण का प्रभाव

आज 27 जुलाई को 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण पड़ रहा है ये रहेगा यह ग्रहण पूरे हिंदुस्तान में दिखाई देगा  इसे बिना किसी उपकरण के सरलता से देखा जा सकेगा पूर्ण चंद्र ग्रहण की आरंभ इंडियन समय के मुताबिक 27 जुलाई को रात 11 बजकर 54 मिनट 02 दो सेकेंड पर होगी चंद्र ग्रहण 28 जुलाई को प्रातः काल 3:49 बजे खत्म होगा इस चंद्र ग्रहण में चंद्रमा लाल रंग का दिखेगा, जिसे ब्लड मून भी बोला जाता है

Image result for 120 दिन रहेगा इस चन्द्र ग्रहण का प्रभाव

सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण
बता दें कि जब पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा के दौरान चंद्रमा  सूर्य के बीच में आ जाती है तो इसे चंद्र ग्रहण बोला जाता है इस बार चंद्र ग्रहण के दौरान चंद्रमा पृथ्वी के बिल्कुल केंद्र से उत्तर से होकर गुजरेगाये स्थिति 1 घंटे 2 मिनट की होगी, इसी कारण इस बार ग्रहण लंबा होगा साथ ही इस बार ल्यूनर एपोजी (पृथ्वी से सबसे दूरी पर स्थित चंद्रमा का आर्बिटल पॉइंट जिससे यह बहुत छोटा  दूर नजर आता है) भी है यानि 27 जुलाई को चंद्रमा  धरती के बीच की दूरी सबसे ज्यादा होगी यही कारण है कि ये चंद्र ग्रहण 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण होगा

Loading...

प्रचलित धार्मिक मान्यताएं 
हिंदुस्तान में ग्रहण को लेकर कई धार्मिक मान्यताएं भी प्रचलित हैं जिनके अनुसार को अपशगुन के रूप में देख जाता है ग्रहण के दौरान खाना-पीना, सोना, घर से बाहर निकलना जैसी आम चीजें मना होती हैं प्रेग्नेंट स्त्रियों को भी इस दौरान बहुत ज्यादा एहितयात बरतनें की सलाह दी जाती हैज्योतिषाचार्य अरुणेश शर्मा के मुताबिक चंद्रग्रहण के बाद ईश्वर को स्नान कराया जाएगा  घरों को भी साफ करना होगा सूतक से पहले घर को साफ करें और
पूरा वातावरण साफ रखने की प्रयास करें चंद्रग्रहण का 120 दिन तक असर रहेगा जिससे लोगों की मन: स्थिति पर असर पड़ेगा
एक महीने के भीतर भूकंप, ज्वालामुखी फटने की घटना हो सकती है

loading...

सूतक काल क्या होता है 
27 जुलाई को ग्रहण प्रारम्भ होने से पहले दोपहर 02:54 बजे से 28 जुलाई को रात्रि 03: 49 बजे तक के समय को सूतक काल माना जा रहा है सूर्योदय के बाद सूतक खत्म माना जाएगा खगोलविज्ञान  ज्योतिष दोनों में ही है हालांकि ग्रहण को लेकर कई तरह के मिथक भी प्रचलित हैं लोगों के मन में आज भी यह एक भय है कि चंद्रग्रहण को नंगी आंखों से देखने पर नुकसान हो सकता है मिड नॉर्थ कोस्ट एस्ट्रोनॉमी के डेविड रेनेके का कहना है कि यह एक खूबसूरत आकाशीय घटना होगी  इसे किसी को भी मिस नहीं करना चाहिए उन्होंने बताया, चंद्रग्रहण सूर्य ग्रहण से अलग है  इसे नंगी आंखों से देखना बिल्कुल सुरक्षित होता है

Loading...
loading...