Saturday , November 17 2018
Loading...

भारत-चीन की सीमाओं का कैसे रहे शांति?

पीएम नरेंद्र मोदी आज यहां चाइना के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मिले  दोनों नेताओं के बीच हाल में हुई बैठकों से मिली गति को बनाए रखने की आवश्यकता पर जोर दिया पीएम मोदी 10 वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए इस समय दक्षिण अफ्रीका में हैं वह पिछले करीब चार महीने में शी से तीसरी बार मिले हैं उन्होंने शी के साथ अपनी हाल की बैठकों को याद करते हुए बोला कि उनसे भारत-चीन के संबंधों को नई मजबूती मिली है  साथ ही दोनों राष्ट्रों के बीच योगदानके लिए नये मौके भी मिले

Image result for भारत-चीन की सीमाओं का कैसे रहे शांति?

सीमाक्षेत्र मामले पर हुई बातचीत
विदेश मंत्रालय के अनुसार, दोनों नेताओं ने बॉर्डर की स्थिति पर विस्तृत रूप से बात की  ये तय किया कि दोनों राष्ट्रों की सेनाओं को सीमा पर शांति बनाने की प्रयास करनी चाहिए

Loading...

चीन  हिंदुस्तान को करनी चाहिए संबंधों की समीक्षा-मोदी
मोदी ने मीटिंग की शुरूआत में शी से कहा, ‘इस गति को बनाए रखना महत्वपूर्ण है  इसके लिए हमें अपने स्तर पर नियमित रूप से अपने संबंधों की समीक्षा करनी चाहिए  जब भी आवश्यकता हो उचित आदेश देने चाहिए ‘ उन्होंने बोला कि आज की मीटिंग से दोनों राष्ट्रों की करीबी विकास सहभागिता को  मजबूत करने का एक  मौका मिला

loading...

प्रधानमंत्री ऑफिस ने ट्विटर पर लिखा, ‘भारत – चाइना की दोस्ती को आगे बढ़ाते हुए पीएम नरेंद्र मोदी  राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने दक्षिण अफ्रीका में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर वार्ता की ‘ माना जाता है कि दोनों नेताओं ने अंतर्राष्ट्रीय परिदृश्य , ब्रिक्स योगदान  परस्पर हित के दूसरे मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान किया

इसी वर्ष अप्रैल में हुई थी दोनों नेताओं की मुलाकात
इससे पहले अप्रैल में चीनी शहर वुहान में दोनों नेताओं की दो दिवसीय अनौपचारिक मीटिंग हुई थीवह मीटिंग डोकलाम गतिरोध के बाद द्विपक्षीय संबंधों को फिर से पटरी पर लाने तथा प्रमुख वैश्विक मुद्दों पर चर्चा के इरादे से हुई थी इसके अतिरिक्त दोनों नेताओं की जून में चाइना के क्विंगदाओ में शंघाई योगदान संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के दौरान मुलाकात हुई थी

Loading...
loading...