Saturday , September 22 2018
Loading...
Breaking News

बुरी खबर: 15 अगस्‍त से पहले ही बंद हो जाएगी यह ई-कॉमर्स साइट

ई-वाणिज्य कंपनी ईबे डॉट इन अगले महीने से कार्य करना बंद कर देगी कंपनी अभी मुख्य तौर पर अपने मंच पर पुराने उत्पादों को फिर से अच्छा (रीफर्बिश) कर के बेचती है इसकी मालिक कंपनी फ्लिपकार्ट ने इसके बदले एक नया मंच प्रारम्भ करने की घोषणा की है उल्लेखनीय है कि ईबे ने अपने इस इंडियन परिचालन को पिछले वर्ष फ्लिपकार्ट को बेच दिया था साथ ही उसमें 50 करोड़ डॉलर का निवेश भी किया था इस प्रक्रिया में फ्लिपकार्ट ने ईबे के अतिरिक्त टेंसेंट माइक्रोसॉफ्ट से भी निवेश जुटाया था कुल निवेश 1.4 अरब डॉलर का था

Image result for ई-कॉमर्स

रीफर्बिश सामान के लिए आएगा नया प्‍लेटफॉर्म
फ्लिपकार्ट के मुख्य कार्यकारी ऑफिसर कल्याण कृष्णमूर्ति ने कर्मचारियों को भेजे ईमेल में बोला है, ‘ईबे डॉट इन पर अपने अनुभव के आधार पर हमने इसे बंद करने का फैसला किया है साथ ही रीफर्बिश सामानों की बिक्री के लिए हमने एक नया ब्रांड बनाया है मौजूदा समय में रीफर्बिश मार्केटमें असंगठित एरिया का दबदबा है इस नए ब्रांड को प्रारम्भ करने की प्रक्रिया के तहत हम 14 अगस्त 2018 से ईबे डॉट इन पर सभी लेन-देन बंद कर रहे हैं ग्राहकों के इन लेन-देनों को नए मंच पर स्थानांतरित किया जा रहा है ‘

Loading...

रीफर्बिश सामान बेचने में आ रही थी दिक्‍कत
उन्होंने बोला कि रीफर्बिश सामान पर लोग जल्दी विश्वास नहीं करते  यह सरलता से उपलब्ध भी नहीं होता रीफर्बिश सामान के सामने यह दो मुख्य बाधाएं हैं  फ्लिपकार्ट के ग्राहक आधार एवं एफ 1 के सूचना प्रौद्योगिकी निवारण एवं सेवाओं से इन्हें व्यापक स्तर पर हल किया जा सकता है

loading...

नकली सामान पर साइटों पर लगेगा भारी जुर्माना
एक अन्‍य सर्वे में वेलोसिटी एमआर ने बोला है कि तीन में से एक ग्राहक पिछले 6 माह में धोखाधड़ी के शिकार हुए हैं इस मुद्दे पर केंद्र गवर्नमेंट का कहना है कि ई-कॉर्मस कंपनियों से होने वाली धोखाधड़ी की घटनाओं को रोकने के लिए जल्द नियम बनाए जाएंगे केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय ने ग्राहकों की शिकायतों पर इन नियमों का मसौदा तैयार करना प्रारम्भ किया इसमें धोखाधड़ी करने वाली ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर कठोर सजा  जुर्माने का प्रावधान किया जाएगा

Loading...
loading...