X
    Categories: राजनीति

बड़ी खबर: पाक चुनाव में हुई इमरान खान की जीत

पाक में हुए आम चुनाव के रिजल्ट पर पूरी संसार की नजर है. चूंकि यह चुनाव दक्षिण एशिया की पॉलिटिक्स को सीधे तौर पर प्रभावित करेगा इसलिए इसका हिंदुस्तान पर भी प्रभाव पड़ना तय है.हालांकि भारत-पाक रिश्तों में भले ही टकराव के मुद्दे पुराने ही हैं जिनका सुलझना बेहद कठिन है लेकिन दोनों राष्ट्रों में नेतृत्व की विचारधारा आपसी चर्चा के तौर-तरीकों को हर तरह से प्रभावित करता है.

प्रसिद्ध अखबार डॉन ने अपने संपादकीय में हाल ही में नयी गवर्नमेंट बनने को लेकर हिंदुस्तान दक्षिण एशियाई राष्ट्रों के साथ पाक के रिश्तों पर विस्तृत रिपोर्ट प्रकाशित की थी. रिपोर्ट के मुताबिक चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में पाकिस्तान में इमरान  शरीफ की पार्टियों में कांटे की मुक़ाबला के बीच इमरान बढ़त में हैं. हालांकि कुछ अब लगभग साफ हो गया है कि इमरान पीएम बनना तय है. बता दें कि इमरान खान ने चुनाव प्रचार में हिंदुस्तान के विरूद्ध खूब जहर उगला था. सेना का परोक्ष साथ भी उन्हें मिला है. इसलिए इमरान के पीएम बनने पर हिंदुस्तान से अच्छे रिश्तों की उम्मीद बेकार साबित होगी.

मालूम हो कि क्रिकेट से पॉलिटिक्स में आए इमरान कई अवसरों पर जेहादियों से बातचीत प्रारम्भकरने  कट्टरपंथियों को मुख्य धारा में लाने की पैरवी कर चुके हैं. इस कारण उनके विरोधी उन्हें तालिबान खान तक के नाम से पुकारते हैं. रिपोर्ट के मुताबिक नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन बिलावल भुट्टो के नेतृत्व वाली पार्टी पीपीपी की पूर्ववर्ती सरकारें हिंदुस्तान के साथ शांतिपूर्ण रिश्तों की पक्षधर रही हैं. इसलिए इनमें से कोई भी पार्टी यदि सत्ता में आती तो हिंदुस्तान के साथ संबंधसुधरने की दिशा में बातचीत चलते रहने की उम्मीद की जा सकती थी.

Loading...
Loading...
News Room :

Comments are closed.