Friday , November 16 2018
Loading...
Breaking News

जेएनयू में पकौड़ा तलना पड़ा भारी

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में पकौड़ा तलना एमफिल के छात्र को महंगा पड़ गया. पकौड़ों के चक्कर में एमफिल के एक विद्यार्थी पर 20 हजार का जुर्माना लगाया गया है.

इंडिया टुडे वेबसाइट पर छपी एक समाचार के अनुसार जेएनयू प्रशासन ने एक एमफिल के विद्यार्थीमनीष कुमार मीणा को दस दिन के अंदर हॉस्टल बदलने तक की सलाह दे डाली है.

बताते चलें कि सेंटर फॉर भारतीय लैंग्वेजेज के विद्यार्थी मनीष कुमार मीना के साथ चार अन्य विद्यार्थियों ने पीएम मोदी के पकौड़े वाले बयान के विरोध में कैंपस में पकौड़े तले थे. इस मामले में विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर ने खुद संज्ञान लेते हुए विद्यार्थी के विरूद्ध जांच के आदेश दिए थे.

Loading...
21 तक उसे पेपर जमा करना है  अब उसके पास पैसे नहीं हैं
इसी के बाद मनीष को नोटिस भेजकर 20 हजार रुपए जुर्माना भरने को बोला गया. वहीं एमफिल के विद्यार्थी को 13 जुलाई तक हॉस्टल शिफ्ट कर लेने का भी आदेश दिया है. हालांकि प्रशासन के इस आदेश से एमफिल विद्यार्थी मनीष कुमार मीणा भ्रमित है क्योंकि उसे 21 तक अपने पेपर जमा करने हैं  अब उसके पास पैसे नहीं हैं.

बोला जा रहा है कि विश्वविद्यालय के आदेश में लिखा है कि मीना 5 फरवरी को साबरमती बस स्टैंड के पास रोड ब्लॉक करने में शामिल था. इसके बाद 9 फरवरी को जारी आदेश में बोला गया है कि मीना ने खाना बनाने के लिए रोड ब्लॉक किया.

loading...
Loading...
loading...