Wednesday , November 21 2018
Loading...
Breaking News

गंगोत्री हाईवे कई घंटों से बंद

नई टिहरी में ऋषिकेश-चंबा-गंगोत्री हाईवे फकोट के पास सुबह 4 घंटे से बंद है। जिससे चारधाम यात्री और स्थानीय मुसाफिरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। फकोट के पास मार्ग के दोनों ओर वाहनों का जाम लगा है। चमोली में भी मौसम खराब रहा। सुबह बारिश होने से बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ में आधे घंटा बंद रहा। जिसके बाद सुबह 6 बजकर 45 मिनट पर हाईवे यात्रियों के लिए खोल दिया गया। थराली सहित पिंडर घाटी में हुई जोरदार बारिश से सड़कों पर मलबा आ गया। थराली देवाल मोटर मार्ग सौगंव और बंदर धौंन में बंद है। यमुनोत्रीधाम सहित पूरी यमुनाघाटी में सुबह से मौसम खराब है। बारिश की संभावना बनी हुई हैं। यहां हाईवे खुला है।

वहीं कुमाऊं के बागेश्वर में रविवार देर रात से लगातार हो रही वर्षा के मद्देनजर जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने जिले के सरकारी, अर्धसरकारी, प्राईवेट विद्यालयों व आंगनबाड़ी केंद्रों को आज बंद रखने के निर्देश दिए हैं। पहाड़ों पर हुई बारिश के चलते यहां सरयू नदी उफान पर है। बारिश की वजह से बागेश्वर-बैजनाथ मोटर मार्ग धागढ़ के पास बंद हो गया। जिसके बाद ट्रैफिक को रिंग रोड से रवाना किया गया था। हालांकि बाद में मार्ग खुल गया।

पिथौरागढ़ में रविवार की रात हुई बारिश के कारण जिले में कुल 27 मोटर मार्ग बंद हैं। सभी मार्गों को खोले जाने का कार्य सड़क निर्माण विभाग द्वारा लगातार जारी है। वहीं थल मुनस्यारी मोटर मार्ग रातीगाड़ में बंद हो गया है।

Loading...

सोमवार से अगले तीन दिनों तक भारी बारिश का साया रहेगा

प्रदेश में सोमवार से अगले तीन दिनों तक भारी बारिश का साया रहेगा। मौसम विभाग ने नौ जुलाई को प्रदेश के कुछ हिस्सों में भारी से भारी बारिश की आशंका जताई है। इसके बाद 10 और 11 जुलाई को कुमाऊं और गढ़वाल के तीन जिलों में अत्यधिक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

प्रदेशभर में रविवार को बादल छाए रहे। पर्वतीय जिलों में कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई। राजधानी में भी भारी उमस के बीच कुछ जगहों पर हल्की बूंदाबांदी हुई। दिनभर उमस ने जीना मुहाल कर दिया। मौसम विभाग ने अब सोमवार से प्रदेश में भारी बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि सोमवार को कुमाऊं में विशेषकर पिथौरागढ़, नैनीताल और चंपावत में कहीं-कहीं भारी बारिश की आशंका है।

loading...

इसके बाद 10 और 11 जुलाई को कुमाऊं के अलावा गढ़वाल के चमोली, पौड़ी और रुद्रप्रयाग जिले में कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। संबंधित विभागों को भी इस बारे में सूचित कर दिया गया है।

Loading...
loading...