X
    Categories: क्राइम

दारोगा की थाने के अंदर चाकू से गोदकर हत्या

उत्तर प्रदेश में आमजन के साथ-साथ अब खाकी भी सुरक्षित नहीं है। अभी हाल ही शाहजहांपुर में दारोगा की हत्या का मामला सामने आया था, लेकिन मंगलवार को कानपुर में थाने के अंदर ही खुद दरोगा की हत्या से पूरी सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं। वहीं इस घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है।
मामला सजेती थानाक्षेत्र का है। यहां के रहने वाले दारोगा की उनके थाना आवास पर  चाकुओं से गोदकर निर्मम हत्या कर दी गई। दरअसल, मंगलवार की देर शाम जब सीएम योगी के कार्यक्रम से ड्यूटी पूरी कर मुंशी दरोगा से मिलने के लिए उनके आवास पर गया तो दारोगा का खून से लथपथ शव देख उसके पैरों के तले से जमीन खिसक गई। जिसके बाद मुंशी ने अालाधिकारियों को जानकारी दी। आईजी रेंज, एसएसपी अखिलेश कुमार पुलिस फोर्स के फारेंसिक भी मौके पर पहुंची। वहीं जांच पड़ताल के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज जांच शुरू कर दी है।

बता दें कि बच्चा लाल गौतम (58) सजेती थाने में दरोगा(HCP) थे। उनका ट्रांसफर इटावा हो चुका था ,लेकिन उन्होंने अभी वहां चार्ज न लेते हुए सजेती में ड्यूटी कर रहे थे। मुख्यमंत्री का अहिरवां एयरपोर्ट पर मंगलवार को कार्यक्रम होने के कारण थाने में पुलिसकर्मीयों की संख्या रोज की तरह कम थी। उनके रिटायरमेंट में डेढ़ वर्ष शेष रहने के कारण उनकी ड्यूटी नहीं लगाई गई थी।

Loading...

वहीं एसएसपी अखिलेश कुमार मीणा ने बताया कि पुलिस हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए सभी एंगल से जांच कर रही है। पुलिस को कमरे से कई अहम सुराग हाथ लगे हैं और कुछ टीमे भी बनाकर टीम हरदोई के लिए रवाना भी कर दी गयी हैं। साथ ही आसपास के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है l वहीं मौके पर फारेंसिक टीम को भी बुलाकर सभी बिन्दुओं पर जाच कराई जा रही है।

loading...

बताया जा रहा है कि मृतक बच्चा लाल ने दो शादी की थी। जिसके चलते इस एंगल से भी पुलिस जाच कर रही है। मामले का जल्द से जल्द खुलासा किया जाएगा।

Loading...
News Room :

Comments are closed.