Wednesday , August 15 2018
Loading...
Breaking News

चार माह के उच्चतम स्तर पर पहुंची महंगाई दर

कर्नाटक चुनाव के बाद पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का प्रभाव महंगाई दर पर भी पड़ा. मई महीने में यह चार माह के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गई. वहीं दूसरी तरफ औद्योगिक विकास दर में भी छोटी इजाफा देखने को मिला.
Image result for चार माह के उच्चतम स्तर पर पहुंची महंगाई दर
इतनी बढ़ गई महंगाई दर
मई में महंगाई दर 4.87 प्रतिशत हो गई. यह अप्रैल में 4.58 प्रतिशत थी. इसके लिए पेट्रोल-डीजल के अतिरिक्त डॉलर के मुकाबले रुपये के गिरने का प्रभाव भी देखा गया. इस वर्ष में यह अब तक की सबसे ज्यादा बढ़ोतरी है. पेट्रोल-डीजल में इजाफा होने का प्रभाव खाने-पीने की वस्तुओं पर भी देखा जाता है, क्योंकि इनके दाम भी बहुत ज्यादा बढ़ गए हैं.

आलू 30 रुपये किलो के पार
खुदरा मार्केट में फल और सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं. प्रमुख सब्जी आलू इस बार फुटकर मार्केट में 30 रुपये प्रति किलो की दर से बिक रहा है. अन्य सब्जियां भी महंगी हो गई हैं. वहीं फलों का राजा कहे जाने वाले आम की मूल्य भी इस वक्त 50 रुपये प्रति किलो है.

Loading...

यह रही औद्योगिक विकास दर
अप्रैल महीने में औद्योगिक विकास दर (आईआईपी) भी बढ़कर 4.9 प्रतिशत रही. यह मार्च में 4.4 प्रतिशत रही थी.

loading...
Loading...
loading...