Saturday , December 15 2018
Loading...

इस वर्ष झारखंड में मानसून लगभग एक हफ्ते विलंब से प्रवेश कर सकता

इस वर्ष झारखंड में मानसून लगभग एक हफ्ते विलंब से प्रवेश कर सकता है. साउथ वेस्ट मानसून की गति निर्बल पड़ने के कारण ऐसा होगा. अब झारखंड में मानसून 18 से 20 जून के बीच दस्तक देगा. टर्फ लाइन उत्तरी हिंदुस्तान के हिमालयन एरिया की ओर सिफ्ट कर रहा है. जिस कारण से उत्तर-पूर्वी राज्य की ओर मानसून आगे नहीं बढ़ेगी.

Related image

फिल्हाल मानसून बंगाल की खाड़ी, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, पुरी, पूर्वी केालकाता के कुछ हिस्से में सक्रिय है. जो अगले 48 घंटों के दौरान इन क्षेत्रों के कुछ हिस्से को कवर करेगी. इसके बाद मानसून आगे बढ़ने की बजाय इसी क्ष्ेात्र में ब्रेक हो जाएगा. पुन: मानसून को मजबूत होने में पांच से सात दिनों का समय लग सकता है.

Loading...
मौसम केंद्र रांची के वैज्ञानिक आरएस शर्मा ने बताया की अगले 48 घंटे के बाद मानसून का फ्लो निर्बल परने की आसार है. जिस वजह से झारखंड में मानसून आने में  सात से नौ दिनों का समय लग सकता है. हालांकि एक हफ्ते के दौरान मानसून फिर मजबूत होगा.

अगले तीन दिनों तक आंधी बारिश की आसार :

loading...

रांची समेत प्रदेश की अधिकांश हिस्से में 14 जून तक हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने की आसारहै. आधी के साथ बिजली भी गिर सकता है. 30 से 40 किमी की गति से हवा चल सकती है. बिहार और सीमावर्ती इलाके में समुद्र तल से 1.5 से 3.1 किमी उपर साइक्लोनिक सर्कूलेशन का एरियाबना है.

जिसका प्रभाव झारखंड में भी देखने को मिलेगा. इसके बाद अगले पांच दिनों तक प्रदेश में बारिश में कमी आएगी. कहीं-कहीं छिटपुट हल्की बारिश होगी. सर्कूलेशन का असर समाप्त होने के कारण ऐसा होगा. इस बीच राज्य के उपर कोई नया सिस्टम भी नहीं बन रहा है. आंधी बारिश में कमी होने के कारण तापमान में वृद्धि हो सकती है.

सोमवार को भी रांची तथा आसपास के इलाके में आसमान में बादल छाया रहा. दोपहर बाद शहर में कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी भी हुई. इस दौरान रांची का अधिकतम तापमान 32.8, न्यूनतम तापमान 24.2 दर्ज किया गया.

Loading...
loading...