Saturday , December 15 2018
Loading...

राजधानी एरिया में अधिकतर एलपीजी गोदाम घनी आबादी के बीच

राजधानी एरिया में अधिकतर एलपीजी गोदाम घनी आबादी के बीच हैं. पटना सिटी में शनिवार को गैस गोदाम में लगी आग ने अग्नि सुरक्षा के बंदोवस्त की पोल खोल खोल दी. नागरिक वेंडर से गैस ले रहे हैं, तो सतर्कता बहुत महत्वपूर्ण है. सावधानी हटी तो एक्सीडेंट घटने की पूरी आसार है.

Image result for  एलपीजी गोदाम

पटना सिटी स्थित जिस गोदाम में आग लगी वहां अग्नि सुरक्षा के बंदोवस्त की जांच रिपोर्ट तो बाद में आएगी पहले शहर के घनी आबादी के बीच एलपीजी गैस गोदामों का हाल जान लेना महत्वपूर्ण है.शहर के सबसे भीड़भाड़ वाला एरिया कोतवाली थाने के सटे एलपीजी का गोदाम जहां कोई बाउंड्री तक नहीं है. गोदाम से सटे कतार से मिठाई की दुकानों के आगे रोड पर ही चूल्हा जल रहा है.

Loading...

बोरिंग रोड, केनाल रोड, शिवपुरी, आनंदपुरी, पटेल नगर, कदमकुआं, बहादुरपुर, अशोक नगर सहित प्राय: घनी आबादी के बीच एलपीजी गोदाम चल रहे हैं. यदि गोदाम में स्थान नहीं तो रोड पर ही सिलेंडर भरा ट्रक से वितरण होता है. कुछ गोदाम ऐसी स्थान पर हैं जहां दमकल भी सरलता से नहीं पहुंच सकते. ट्रैफिक जाम की स्थिति में तो  भी कठिन होगा.

loading...
नियमानुसार एलपीजी गोदाम खुले इलाके में होना चाहिए. गोदाम के चारो ओर सुरक्षा बाउंड्री होनी चाहिए. गोदाम में अग्नि सुरक्षा के सभी बंदोवस्त जरूरी है. पटना सिटी में शनिवार को दमकल पहुंचा तब तक बारी-बारी से गैस सिलेंडर के विस्फोट से आकाश में आग का गोला उड़ता रहा.

शहर में सिलेंडर विस्फोट

शहर में कभी छोटे सिलेंडर तो कभी बड़े सिलेंडर से गैस रिसाव से आग लगने की घटना होती रहती है.कदमकुआं के अमरूदी गली में रहने वाले लक्ष्मी महतो के घर में खाना बनाने के दौरान आग लग गई. आग की चपेट में आकर फ्रिज, रसोई का सामान, अलमारी आदि जलकर राख हो गई. वेंडर ने जो सिलेंडर दिया था उससे गैस रिसाव के चलते आग लग गई.

नया कनेक्शन  लगी आग

बात गर्दनीबाग थाना एरिया की रोड नं.1 स्थित प्रोफेसर कालोनी की है. एक नामी डॉक्टर के कंपाउंडर बबलू ने नया गैस कनेक्शन लिया. बड़े अरमान से कार्य पर जाने से पहले सेफ्टी कैप खोल चेक कर रहा था कि माचिस की तीली जलाते ही आग भड़क गई. घर में मौजूद मां, पत्नी और बच्चे को लेकर शोर मचाते बाहर भागा. पड़ोसियों ने रबर के पाइप से पानी डाल आग बुझाने की प्रयास की, पर कुछ ही पल में सबकुछ राख हो गया.

Loading...
loading...