Monday , September 24 2018
Loading...
Breaking News

नाराज तेजप्रताप बोले- RJD में असामजिक तत्‍वों का जमावड़ा

क्‍या बिहार के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार में कलह गहरा गया है? क्‍या लालू प्रसाद यादव के परिवार में राजनीतिक विरासत को लेकर लड़ाई प्रारम्भ हो गई है? लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव की बातों ने इन कयासों को हवा दे दी है. तेजप्रताप ने राजद में ‘असामाजिक तत्‍वों के जमावड़ा’ का आरोप लगाकर सनसनी फैला दी है. यह भी बोला है कि पार्टी में उनका अपमान हो रहा है, जो बर्दाशत नहीं है. साथ ही, उन्‍होंने बोला कि ऐसे तत्‍वों के मंसूबे पूरे नहीं होंगे.

Image result for नाराज तेजप्रताप

तेजप्रताप यादव ने बोला है कि राजद नेता उनकी बात नहीं सुन रहे. फोन नहीं उठा रहे. सलाह-आदेश नहीं मान रहे. कह रहे कि ऊपर से आदेश है. तेजप्रताप ने अपनी नाराजगी का इजहार पहले ट्वीट करके किया. फिर, मीडिया से भी वार्ता की. महादेव मंदिर में पूजा करने गए तेजप्रताप ने पॉलिटिक्ससे संन्यास लेने की ख़्वाहिश जताई. उन्होंने बोला कि तेजस्वी को राजद का ताज सौंपकर वे द्वारिका के लिए प्रस्थान करना चाहते हैं. जैसे महाभारत विजय के बाद पांडवों को राज सौंपकर श्रीकृष्ण ने किया था.

Loading...

नेताओं को निकालने की दी धमकी

loading...

तेजप्रताप ने साफ किया कि उनका तेजस्वी से कोई झगड़ा नहीं है. छोटा भाई (तेजस्वी) कलेजे का टुकड़ा है. लेकिन, पार्टी में अपमान बर्दाशत नहीं. राजद असामाजिक तत्वों का जमावड़ा बन गया है.इसे अच्छा करने की आवश्यकता है. कुछ लोग हैं जो भाइयों में फूट डालकर परिवार की प्रतिष्ठा को समाप्त करना चाहते हैं. वैसे नेता मेरी भी बात नहीं सुनते  पार्टी को बांटना चाहते हैं. उन्हें बर्खास्त करने की आवश्यकता है.

तेजप्रताप बोले कि लालू प्रसाद, राबड़ी देवी, तेजस्वी  मीसा भारती के नाम पर पार्टी के कुछ लोग गलत कार्य करते हैं. ऐसे लोग ‘चुगलखोर’ हैं  उन्हें पार्टी से तत्काल निकाला जाना चाहिए.

इसलिए नाराज हैं तेजप्रताप

बताया जाता है कि तेजप्रताप की नाराजगी का वजह राजेंद्र पासवान को संगठन में जरूरी ओहदा दिलाने का मामला है. इसके लिए उन्होंने कई बार राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे को बोला, लेकिन ऊपर का दबाव बताकर उन्‍होंने टालमटोल किया. राजेंद्र के लिए उन्हें राबड़ी देवी, लालू यादव  तेजस्वी से बात करनी पड़ी, जिसके बाद उन्हें प्रदेश महासचिव बनाया जा सका. पार्टी में विद्यार्थीराजद की उपेक्षा भी तेजप्रताप को खटक रही है. वे चाहते हैं कि युवा टीम होने के कारण विद्यार्थीशाखा को भी महत्व मिले.

पार्टी के माहौल से पत्नी ऐश्वर्या भी हतप्रभ

पार्टी के अंदर की बातें तेजप्रताप ने अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से भी साझा की तो वे हतप्रभ रह गईं.बकौल तेजप्रताप, ऐश्वर्या ने उन्हें सलाह दी कि वे अपनी बात उचित स्थान पर रखें. तेजप्रताप ने बोला कि वे भी पार्टी के सीनियर  समर्पित नेता तथा लालू परिवार के सदस्‍य हैं. तेजप्रताप ने दावा किया कि असामाजिक तत्वों की नीयत कभी पूरी नहीं होगी. परिवार एकजुट रहेगा. तेजस्वी उनके जिगर का टुकड़ा हैं  माता-पिता का आशीर्वाद दोनों के साथ है.

Loading...
loading...