Wednesday , September 26 2018
Loading...
Breaking News

उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने दी जानकारी, हवाई किराए में आई 18 फीसद की गिरावट

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने जानकारी दी है कि वर्ष 2017 के दौरान औसत हवाई किराए में 18 फीसद की गिरावट आई है. जबकि घरेलू विमान वाहकों की ओर से सफर करने वाले यात्रियों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है, जिसकी कंपाउंड एनुअल ग्रोथ रेट (सीएजीआर) वित्त साल 2014 के मुकाबले वित्त साल 2018 में 19 फीसद दर्ज की गई है.

Image result for हवाई किराए

(साफ इरादा, सही विकास) के साथ किए गए ट्वीट सीरीज में प्रभु ने यह भी बोला कि उनका मंत्रालय मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत एयरक्राफ्ट के डोमेस्टिक प्रोडक्शन के ब्लू प्रिंट पर कार्य कर रहा है. उन्होंने अपने एक ट्वीट में कहा, “साल 2015 के औसत हवाई किराए के मुकाबले वर्ष 2017 के दौरान औसत हवाई किराया 18 फीसद तक कम हुआ है, जिसने हर किसी के लिए हवाई सफर को किफायती बना दिया है.”

Loading...

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “भारत की नियमित विमान सेवा में विमान यात्रियों की संख्या वित्त साल 2014 के 6.1 करोड़ मुकाबले वित्त साल 2018 में 12 करोड़ हो गई है. इस प्रकार घरेलू विमान सेवा में सीएजीआर 19 प्रतिशत दर्ज की गई है. रणनीतिक नीतियों के कारण हिंदुस्तान के अधिकतर लोगों को समय से पहले उड़ान मिलना संभव हुआ है.”

loading...

गौरतलब कि मोदी गवर्नमेंट ने अपने कार्यकाल के चार वर्ष पूरे होने पर 26 मई को साफ नियत, साफ विकास का नारा दिया था जिसमें गवर्नमेंट की ओर से विभिन्न क्षेत्रों की उपलब्धियों को बताया गया है. दिलचस्प रूप से एयर पैसेंजर ट्रैफिक के मामले में लगातार 44वें महीने में डबल डिजिट ग्रोथ दर्ज कराई है. अप्रैल महीने में यह 26.05 फीसद रही है.

Loading...
loading...