Sunday , November 18 2018
Loading...
Breaking News

तीन साल से जेल में बंद था अफ्रीका का विदेशी युवक

रांची की जेल में बंद एक विदेशी कैदी ने सबको उस वक्त हैरान कर दिया जब वह रिहाई के दौरान अचानक भोजपुरी भाषा बोलने लगा। उसने कहा कि कस्टडी से निकल के कस्टडी में आ गइनी, अब हम न रहब इहां। बता दें कि एमानुएल ओनियेका ओकपारा अफ्रीका के घाना के रहने वाले हैं। वह पिछले तीन साल से रांची की बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में बंद थे। लेकिन जब बुधवार को उन्हें रिहा किया गया तो वह अचानक भोजपुरी बोलने लगे। रिहाई के बाद भी एमानुएल को रांची पुलिस को सौंप दिया गया है। उन्हें दूतावास स्तर से कार्रवाई पूरी होने के बाद घाना भेजा जाएगा।
Image result for तीन साल से जेल में बंद था अफ्रीका का विदेशी युवक

रिहाई के बाद जब एमानुएल को पुलिस थाने लेकर पहुंची तो वह कहने लगा कि हम कस्टडी से निकलकर कस्टडी में ही आ गईनी। इ बात ठीक नइखे। इस दौरान पुलिस हैरान रह गई। पुलिस ने पूछा कि यह भाषा उसे कहां से आई तो उसने बताया कि उसने जेल में रहने के दौरान यह भाषा सीखी है।

एमानुएल को सन 2014 में सजा हुई थी। सितंबर 2017 में ही उसका तीन साल की सजा पूरी हो गई थी। लेकिन बेलर नहीं मिलने की वजह से वह रिहा नहीं हो पा रहा था। एमानुएल ने साइबर फ्रॉड किया था जिसके आरोप में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था। इस आरोप में उसे 3 साल की जेल और 10हजार रुपए जुर्मना लगाया गया था।

Loading...
Loading...
loading...