Friday , June 22 2018
Loading...

केजरीवाल के बाद कुमार विश्वास ने भी मांग ली अरुण जेटली से माफी

अरुण जेटली मानहानि मामला में आज उस वक्त नया मोड़ आ गया, जब आप नेता कुमार विश्वास ने अरुण जेटली से माफी मांग ली और पूर्व वित्त मंत्री ने भी उन्हें माफ कर दिया।
Image result for केजरीवाल के बाद कुमार विश्वास ने भी मांग ली अरुण जेटली से माफी
इस तरह से अब अरुण जेटली मानहानि मामले के बंद होने का रास्ता पूरी तरह से साफ हो गया है। बता दें कि इस मामले में पहले ही केजरीवाल व अन्य आप नेताओं जैसे राघव चड्ढा, आशुतोष आदि ने माफी मांग ली थी। सिर्फ कुमार विश्वास ने ही माफी नहीं मांगी थी लेकिन आज उनके माफी मांगने से यह केस पूरी तरह से खत्म होने की ओर बढ़ चुका है।
यह भी पढ़ें:   बड़ा सवाल : अगर 71 नियुक्तियां अवैध हैं तो सिर्फ 9 सलाहकारों को क्यों हटाया ?

गौरतलब है कि कुमार विश्वास ने अपने माफीनामे में लिखा- अब अरविंद केजरीवाल मेरे संपर्क में नहीं है और वह स्वयं झूठ बोलकर अब गायब हो गए हैं। मैंने पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते उनकी बात का समर्थन किया था।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत पांच आप नेताओं के माफी मांगने के बाद मानहानि के तीन मामलों से उन्हें राहत मिल गई थी। हाईकोर्ट ने दो दीवानी मामलों व पटियाला हाउस अदालत ने मानहानि के अपराधिक मामलों में दोनों पक्षों के बीच हुए समझौते को मंजूरी प्रदान कर दी थी।

इसके साथ तीनों ही मामलों में माफी मांगने वाले केजरीवाल सहित अन्य आप नेताओं के खिलाफ मुकदमे बंद हो गए थे। हालांकि कुमार विश्वास के उस समय माफी न मांगने उनके खिलाफ मुकदमा चल रहा था।

यह भी पढ़ें:   'वर्दी का रौब मत दिखाओ, या तो एसीपी साहब से बात करो या...'

जस्टिस राजीव सहाय एंडलॉ ने डीडीसीए मानहानि में दस करोड़ दावे के पहले मामले को वापस लेने की अनुमति जेटली व केजरीवाल के वकीलों को दे दी थी। यह पहला मामला था जो केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने अरविंद केजरीवाल समेत छह आप नेताओं पर दस करोड़ मुआवजे के लिए किया था।

केजरीवाल व अन्य के माफी मांगने के बाद यह मामला केवल कुमार विश्वास पर चल रहा था क्योंकि उन्होंने माफी नहीं मांगी थी।

Loading...

जेटली के बारे में आप नेतातओं ने कही थीं ये बातें

दूसरी ओर जस्टिस मनमोहन ने भी जेटली व केजरीवाल के वकीलों को मानहानि के लिए दस करोड़ रुपये मुआवजे के दूसरे मामले को वापस लेने की अनुमति दे दी थी। यह दावा जेटली ने वरिष्ठ अधिवक्ता राम जेठमलानी द्वारा अपशब्द प्रयोग किये जाने के बाद अरविंद केजरीवाल पर हाईकोर्ट में दायर किया था।

पटियाला हाउस अदालत के एसीएमएम समर विशाल ने अरुण जेटली व केजरीवाल की अर्जियों पर सुनवाई के बाद मानहानि के अपराधिक मामले की शिकायत वापस लेने की अनुमति प्रदान कर दी थी।

मानहानि के इन मामलों में केजरीवाल के साथ राघव चड्ढा, दीपक वाजपेयी, आशुतोष व संजय सिंह ने एक अप्रैल को केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली से माफी मांगी थी।

पेश मामला दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) से जुड़ा हुआ था। मुख्यमंत्री केजरीवाल समेत छह आप नेताओं ने बयान जारी कर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली पर वित्तीय अनियमितता के आरोप लगाये थे।

इन नेताओं का कहना था कि वर्ष 1999 से 2013 तक डीडीसीए के अध्यक्ष थे और उनके कार्यकाल में कामकाज में भारी वित्तीय अनियमितता हुई थी और निजी कंपनी को फायदा पहुंचाया गया था।

Loading...