X
    Categories: उत्तराखण्ड

जंगल की आग से उत्तरकाशी स्कूली बच्चे बेहाल

उत्तरकाशी में बुधवार को जंगल की आग कहर बनकर बरपी. राहत की बात रही कि दो बड़े हादसे चेतावनी देकर टल गए. ITBP कैंप के नज़दीक आग पहुंच गई थी जिसे कड़ी मेहनत के बाद बुझा लिया गया और आग से कुछ स्कूली बच्चे झुलस गए, हालांकि उन्हें मामूली झुलसन ही हुई थी.


उत्तरकाशी में मंगलवार को आग की 22 बड़ी घटनाएं हुई थीं और बुधवार को फिर ज़िले के जंगल धधक उठे थे. ITBP का CIJW स्कूल महिडाण्डा और 35वीं बटालियन ITBP का कैम्प भी खतरे की जद में आ गया था. गौरतलब है कि CIJW स्कूल में नक्सलवादियों से निपटने के लिए विशेष कमांडो दस्ते तैयार किए जाते हैं.

Loading...

सूचना मिलते ही ITBP के जवानों के साथ फायर सर्विस ओर वनकर्मी आग बुझाने के काम में जुट गए. जानकारी मिलने पर डीएफओ, डीएम, एसडीएम मौके के लिए रवाना हो गए. देर रात ITBP और वन विभाग की टीम ने मिलकर आग पर काबू पाया और ITBP ओर ज़िला प्रशासन ने राहत की सांस ली.

loading...

उधर बुधवार शाम को ही चार स्कूली बच्चे जंगल की आग से झुलस गए. पटारा ओर मालना गांव के जंगलों में एक बार आग भड़क गई और आग की चपेट में पटारा और जखारी गांव के चार स्कूली बच्चे भी आ गए. धरासू रेंज के खुरमोला गाड क्षेत्र में झुलसे इन बच्चों को कल्याणी ओर ब्रह्मखाल अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें घर जाने दिया गया.

उत्तरकाशी के डीएम आशीष चौहान बच्चों का हाल जानने जखारी गांव पहुंचे. उन्होंने कहा कि आग से झुलसे स्कूली बच्चों को मामूली बर्न इंजरी है. मौका मुआयना करने के बाद डीएम ने तहसीलदार को जांच के आदेश दिए.

Loading...
News Room :