Sunday , September 23 2018
Loading...
Breaking News

रमजान में ऑपरेशन बंद करने पर भड़की शहीद की पत्नी

सीमापार से सीजफायर उल्लंघन और गोलीबारी करने से बाज नहीं आ रहा है पाकिस्तान । बीती रात पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के आरएस पुरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सीजफायर उल्लंघन किया और रात भर फायरिंग की।

 

इस गोलीबारी में बीएसएफ का एक जवान कांस्टेबल सीताराम उपाध्याय  शहीद हो गए। शहीद बीएसएफ जवान की पत्नी ने भारत सरकार से पूछा है कि आपने जम्मू-कश्मीर में रमजान के दौरान सेना और दूसरे सुरक्षा बलों द्वारा आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने की बात कही है लेकिन इस रोकथाम में मैंने अपना पति खो दिया है। पाकिस्तान लगातार सीमापार से सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है।शहीद की पत्नी ने कहा, ‘सरकार मुझे मेरे पति के शहीद होने के बाद कुछ मुआवजा दे देगी लेकिन इससे मेरे पति वापस नहीं आ जाएंगे।’ सीताराम झारखंड के रहने वाले थे।

Loading...

बता दें कि पिछले दिनों भारत सरकार ने  जम्मू-कश्मीर में रमजान के दौरान सेना और दूसरे सुरक्षा बल आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने की घोषणा की थी। लेकिन यह रोक सशर्त थी। केंद्र ने लंबे सलाह-मशविरे के बाद मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती का कार्रवाई स्थगित करने का अनुरोध मान लिया था।

loading...

केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया था कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने खुद सीएम महबूबा को इस फैसले की जानकारी दी थी। यह फैसला पीएम नरेंद्र मोदी के जम्मू-कश्मीर दौरे से दो दिन पहले किया गया। लेकिन भारत सरकार के इस फैसले के बाद पाकिस्तान बाज नहीं आ रहा है। बीती रात पाकिस्तान की ओर से मोर्टार से बीएसएफ पोस्ट और सिविलियन इलाकों पर निशाना साधा गया जिसमें बीएसएफ के जवान शहीद हुए वहीं इस हमले में घायल हुए दो आम नागरिकों की भी मौत हो गई है।

बता दें कि अरनिया सेक्टर में लोगों को घरों से बाहर ना निकलने की हिदायत दी गई है। जबकि जम्मू- कश्मीर के अर्नी, बिश्नाह और आरएस पुरा इलाकों में नियंत्रण रेखा से तीन किलोमीटर के दायरे में स्थित सभी सरकारी और निजी स्कूलों को बंद कर दिया गया है।

Loading...
loading...