Sunday , September 23 2018
Loading...
Breaking News

नहीं कंट्रोल हो रहा है लालू यादव का शुगर लेवल

राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की तबियत ठीक नहीं है। राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस के कार्डियोलोजी विंग में भर्ती लालू प्रसाद को हर दिन लगभग 44 यूनिट इंसुलिन दिया जा रहा है। इसके बावजूद उनका शुगर लेवल कम नहीं हो रहा है।

 Image result for नहीं कंट्रोल हो रहा है लालू यादव का शुगर लेवल

बता दें कि लालू को 30 अप्रैल को अचानक दिल्ली के एम्स से यह कह डिस्चार्ज कर दिया गया था कि वह अब ठीक हैं। उनका एम्स में लगभग एक महीने तक इलाज चला था जिसमें किडनी, शुगर और दिल से जुड़ी बीमारियों का इलाज किया गया था। बताया जा रहा है कि एम्स में उनका शुगर स्तर कुछ नियंत्रित था जब से वह रिम्स पहुंचे हैं लाख कोशिशों के बाद उनका शुगर लेवल कम होने का नाम नहीं ले रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि उनका फास्टिंग शुगर लेवल (खाने से पहले) 214 था। खाने के बाद का शुगर लेवल (पीपी) भी  मानक से काफी अधिक दर्ज किया गया है।

Loading...

डॉक्टरों का मानना है कि जब से लालू प्रसाद यादव एम्स से आएं हैं उनका इंसुलिन बदला गया था।  इंसुलिन का डोज बदलने के बाद 40 यूनिट से शुरू किया गया था। बाद में धीरे-धीरे इसकी डोज बढ़ायी गयी, 40 से 42 और उसके बाद 44 यूनिट किया गया है लेकिन फिरभी उनका शुगर स्तर कम होने का नाम नहीं ले रहा है।  बता दें कि शुगर का स्तर अगर यूंही बढ़ता रहा तो लालू के लिए खतरा हो सकता है। मानक से लगातार बढ़ा हुआ शुगर स्तर कई बीमारियों का जनक हो सकता है।

loading...

इससे बेहोशी की नौबत आ जाती है

विशेषज्ञों का कहना है कि लगातार इंसुलिन का डोज बढ़ा कर दिए जाने  से मरीज हाइपोग्लेसिमिया में चला जाता है इससे बेहोशी की नौबत आ जाती है। ऐसे में मरीज के हालात को देखते हुए ही दवा दी जाती है। बता दें कि लालू प्रसाद की तबियत लगातार बिगड़ रही है।

बताया जा रहा है कि लालू प्रसाद कि आज शुगर स्तर की जांच होनी है। साथ ही ब्लड की जांच भी होनी है। लालू प्रसाद को शुगर स्तर नियंत्रित करने के लिए ने डॉक्टरों ने टहलने की सलाह दी है, सलाह का पालन करते हुए लालू कमरे के बाहर देखे जा रहे हैं।

रिम्स निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव ने बताया कि कार्डियोलॉजिस्ट व इलाज कर रहे डॉक्टर के निर्देश के बिना लालू प्रसाद को ट्रेड मिल नहीं दिया जा सकता है। बता दें कि उनकी बाइस सर्जरी हो चुकी है, इसलिए ट्रेड मील पर चलाने से पहले हर बिंदु पर डॉक्टर नजर रखे हुए हैं।

Loading...
loading...