Sunday , November 18 2018
Loading...
Breaking News

इन दोनों राष्ट्रों की सेना ने की बैठक

पीएम नरेंद्र मोदी के चाइना जाकर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मिलने का सकारात्मक प्रभाव भारत-चीन सीमा पर दिखने लगा है हमेशा इंडियन सीमा में घुसपैठ करने को तत्पर करने वाली चीनी चीनी सेना के अधिकारीयों ने विवादों को भुलाकर इंडियन सैन्य अधिकारीयों से बैठक कीमंगलवार को हुई इस मुलाकात में दोनों पक्षों ने असली नियंत्रण रेखा पर शांति कायम रखने  विश्वास बहाली के अलावा तरीकों पर कार्य करने का संकल्प लिया

Related image

उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते पीएम मोदी  जिनपिंग के बीच अनौपचारिक शिखार बातचीत हुई थी, इस मीटिंग में मोदी  जिनपिंग ने सुरक्षा संबंधी मुद्दों पर दोनों राष्ट्रों के बीच रणनीतिक वार्ता को मजबूत करने पर सहमति जताई थी दोनों राष्ट्रों के शीर्ष नेताओं की इस मीटिंग के बाद अब दोनों राष्ट्रों के सैन्य अधिकारीयों ने असली नियंत्रण रेखा पर शांति कायम रखने के लिए लद्दाख के चुसुल इलाके में बॉर्डर व्यक्तिगत बैठक (बीपीएम) की इस मीटिंग में वार्ता विवादित सीमा पर तनाव को कम करने  अविश्वास को पाटने के तरीकों पर हुई

Loading...

इस मीटिंग के बाद हुए निर्णयों के बारे में सेना ने बोला कि तालमेल करके गश्त लगाने के तहत प्रत्येक पक्ष दूसरे पक्ष को विवादित एरिया में अपना गश्ती दल भेजने से पहले अग्रिम सूचना देगा उन्होंने बोला कि दोनों पक्ष लोकल घटनाओं का हल 2003 के समझौते के प्रावधानों के अनुसार करेंगेआपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इंडियन जवानों के सीमा पर गश्त करने को लेकर कई बार तनाव की स्थिति पैदा हुई है, इसी टकराव को खत्म करने के लिए यह कदम उठाया गया है

loading...
Loading...
loading...