Saturday , November 17 2018
Loading...

ट्रंप ने दक्षिण कोरिया में असैन्य एरिया का सुझाव दिया

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को दक्षिण कोरिया के असैन्य एरिया को उत्तर कोरियाई नेता किम जांग उन के साथ उनकी मीटिंग का संभावित स्थल बनाने का सुझाव दिया   यह असैन्य एरिया कोरियाई प्रायद्वीप में फैला भूखंड है इसे कोरियाई सैन्य समझौते के प्रावधान के तहत स्थापित किया गया है   ट्रंप ने ट्वीट करके सवाल किया कि मीटिंग के लिए कई राष्ट्रों के नामों पर विचार किया जा रहा है लेकिन क्या तीसरे राष्ट्र के बजाय उत्तर  दक्षिण कोरिया की सीमा पर शांति सदन या स्वतंत्रता सदन ( पीस हाउस , फ्रीडम हाउस ) ज्यादा बेहतर , जरूरी  हमेशा के लिए यादगार स्थल होगा ? केवल पूछ रहा हूं !’’

 

वर्ष 1953 के बाद दक्षिण कोरियाई धरती पर कदम रखने वाले उत्तर कोरिया के पहले नेता किम मीटिंग के लिए दक्षिण कोरियाई मून जेई इन के साथ पीस हाउस गये थे   व्हाइट हाउस के ऑफिसरट्रंप  किम के बीच प्रस्तावित मीटिंग के लिए संभावित स्थल खोजने में जुटे हैं  सिंगापुर तथा मंगोलिया इस सूची में शामिल हैं   न्यूयार्क टाइम्स ने समाचार दी कि अधिकारियों ने पीस हाउस की आसार से व्यक्तिगत रूप से मना किया था   ट्रंप ने उत्तर कोरिया के नेता से मिलने का न्यौता स्वीकारा था यह अमेरिका तथा उत्तर कोरिया के नेताओं के बीच पहली मुलाकात होगी

Loading...

बता दें कि ट्रंप ने शनिवार 28 अप्रैल को डेट्रॉयट के बाहर विशाल रैली को संबोधित करते हुए बोला था कि, ‘हम वो चीजें कर रहे हैं, जो अच्छी हैं मुझे लगता है कि दोनों राष्ट्रों की मीटिंग अगले तीन से चार हफ्ते के भीतर होगी यह बहुत ही जरूरी मीटिंग होगी ‘ डोनाल्ड ट्रंप ने आगे कहा, ‘कोरियाई प्रायद्वीप का परमाणु निरस्त्रीकरण हम देखेंगे कि यह कैसे होगा’ किम जोंग  ट्रंप के बीच की यह प्रस्तावित मीटिंग दोनों की पहली मुलाकात होगी हालांकि, यह मीटिंग किस जगह पर होगी, इसका अभी पता नहीं चल पाया है

loading...

कोरिया ने दिया अमेरिका को श्रेय
डोनाल्ड ट्रंप ने बताया कि उन्होंने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन से शनिवार प्रातः काल बात की राष्ट्रपति मून ने किम जोंग के साथ संबंधों में बहाली का श्रेय अमेरिका को दिया है ट्रंप ने कहा, ‘उन्होंने (मून) हमें इसका श्रेय दिया उन्होंने हमें ही पूरा श्रेय दिया ‘

65 वर्ष बाद नॉर्थ कोरिया का शासक पहुंचा दक्षिण कोरिया
उत्तर कोरिया का शासक किम जोंग उन का दक्षिण कोरिया जाना ऐतिहासिक कदम था ये 65 वर्षबाद था जब उत्तर कोरिया का कोई शासक दक्षिण कोरिया गया अंतर कोरियाई सम्मेलन में भाग लेने के लिए किम ने पैदल ही सीमा पार की थी, जिसके बाद किम जोंग उन  दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने मून जे इन से हाथ मिलाया था इस मुलाकात के दौरान किम जोंग ने मून से बोला था, ‘आपसे मिलकर खुशी हुई मैं यहां इस तरह के ऐतिहासिक जगह पर मिलकर अपनी उत्सुकता नहीं रोक सकता यह बहुत ही भावुक है कि आप राष्ट्रपति यहां पनमुनजोम में मेरे स्वागत के लिए आए ‘ इस दौरान किम जोंग ने मून जे इन को उत्तर कोरियाई सीमा की तरफ आने का न्यौता देते हुए सभी को दंग कर दिया था इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था

Loading...
loading...