Monday , May 21 2018
Loading...

जियो की याचिका पर एयरटेल से न्यायालय ने मांगा जवाब

आइपीएल के दौरान अपने एडवरटाईजमेंट को लेकर टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल  जियो (रिलायंस) के बीच टकराव बढ़ गया है. जियो की तरफ से दायर अवमानना याचिका पर दिल्ली हाई न्यायालय ने एयरटेल का जवाब मांगा है.

Image result for जियो की याचिका पर एयरटेल से न्यायालय ने मांगा जवाब

क्या है मामला: दरअसल, पूरा टकराव एयरटेल के एक एडवरटाईजमेंट को लेकर है, जिसमें एयरटेल मैच को मुफ्त में लाइव दिखाने का दावा कर रहा है. लेकिन इसमें जो शर्ते हैं वो छुपी हुईं हैं. इसको लेकर जियो ने न्यायालय में अपील की है कि एडवरटाईजमेंट भ्रामक  ग्राहकों को धोखा देने वाला है.न्यायालय ने 13 अप्रैल को आदेश में बोला था कि एयरटेल अपने एडवरटाईजमेंट के साथ एक डिस्क्लेमर भी चलाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. मंगलवार को न्यायमूर्ति योगेश खन्ना ने वीडियो छपे हुए एडवरटाईजमेंट देखकर एयरटेल को नोटिस जारी किया.

एयरटेल को तगड़ा नुकसान: इस बीच, इस साल मार्च में समाप्त हुई तिमाही के दौरान भारती एयरटेल के शुद्ध मुनाफे को 78 फीसद का तगड़ा झटका लगा है. कंपनी के मुताबिक समीक्षाधीन अवधि में उसका शुद्ध मुनाफा 82.9 करोड़ रुपये रहा. उससे पिछले वित्त साल की समान अवधि में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 373.4 करोड़ रुपये रहा था. कंपनी ने घटे मुनाफे का सारा दोष पिछले कुछ समय के दौरान मार्केट में बढ़ी स्पर्धा  मुफ्त वॉयस कॉल पर मढ़ा है. पिछले 14 वर्षो के दौरान कंपनी का यह सबसे कम तिमाही मुनाफा है. रिलायंस जियो का नाम लिए बिना कंपनी के एमडी औरसीईओ (भारत और दक्षिण एशिया) गोपाल विट्टल ने बोला कि टेलीकॉम सेक्टर लागत के नीचे बनावटी  दबाव वाली प्राइसिंग पर कार्य कर रहा है.

 

Loading...