Wednesday , October 17 2018
Loading...
Breaking News

हिंदुस्तान की वीजा नीति से परेशान हुए नजम सेठी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजम सेठी ने शिकायत की है कि हिंदुस्तान की ‘‘सख्त’’ वीजा नीति के कारण आईसीसी की मीटिंग में भाग लेने के लिए उन्हें बहुत ज्यादा लंबी यात्रा करनी पड़ी सेठी के दावे को हालांकि विदेश मंत्रालय ने यह कहते हुए खारिज कर दिया कि ‘‘यह कोई बड़ी बात नहीं’’ सेठी ने दावा किया कि लाहौर से कोलकाता पहुंचने में उन्हें 19 घंटें लग गए

Image result for नजम सेठी

सेठी ने पीटीआई से कहा, ‘‘यहां पहुंचने में मुझे 19 घंटे लगे  इस दौरान मुझे बहुत ज्यादा असुविधा  कठिनइयों का सामना करना पड़ा अगर हमें सही तरीके से वीजा मिले तो लाहौर से यहां पहुंचने में सिर्फ दो घंटे का समय लगेगा ’’

Loading...

चीन के दौरे पर गये विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बोला कि सभी वीजा आवेदनों को तय प्रक्रिया से गुजरना होता है उन्होंने कहा, ‘‘यह कोई बड़ी बात नहीं इसके लिए एक प्रक्रिया है जिसका पालन दोनों राष्ट्रों के लोगों को करना होता है जब कोई इंडियन पाक की यात्रा पर जाता है तो उसे भी तय प्रक्रिया से गुजरना होता है ’’ रवीश ने कहा, ‘‘वह ( सेठी ) यहां किसी खास वजह से आए हैं , कोलकाता में एक मीटिंग में भाग लेने इसलिए उन्हें एक शहर का वीजा दिया गया है वह शिकायत कर सकते हैं या कुछ भी कह सकते हैं लेकिन इस में कुछ भी नया नहीं है ’’

loading...

पहले दुबई जाना पड़ा सेठी को
सेठी के साथ पीसीबी के दूसरे ऑफिसर कल देर रात यहां पहुंचे सेठी ने कहा, ‘‘वीजा नियम इतने कठोर है कि हम पाक से सीधे दिल्ली या कोलकाता नहीं आ सकते मुझे लाहौर से दुबई जाने वाला विमान लेना पड़ा  फिर वहां से कोलकाता का ’’

पीसीबी का कोई प्रतिनिधिमंडल 2015 के बाद पहली बार हिंदुस्तान आया है 2015 में प्रतिनिधिमंडल दोनों राष्ट्रों के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंधों को बहाल करने को लेकर वार्ता के लिए यहां आया था

सात करोड़ डॉलर के मुआवजे का दावा
बताते चलें कि पीसीबी ने 2014 के सहमति लेटर का उल्लंघन करते हुए द्विपक्षीय सीरीज खेलने से मना करने पर हिंदुस्तान के विरूद्ध सात करोड़ डालर के मुआवजे का दावा किया है इस एमओयू के तहत 2015  2023 के बीच दोनों टीमों को छह द्विपक्षीय सीरीजएं खेलनी थी तीन सदस्यीय आईसीसी पैनल अक्तूबर में इस दावे पर सुनवाई करेगा

सेठी ने बोला कि 2018 एमर्जिंग टीम एशिया कप की पाक  श्रीलंका में सहमेजबानी उनके राष्ट्र में दोबारा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट प्रारम्भ होने की दिशा में उम्मीद की किरण है एशियाई क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष सेठी ने कहा, ‘‘इस दिशा में एक  जरूरी कदम यह है कि एसीसी सहमत हो गया है कि एमर्जिंग एशिया कप का कुछ भाग पाक  कुछ भाग श्रीलंका में होगा हम उम्मीद कर रहे हैं कि हिंदुस्तान  पाक के बीच सब कुछ सामान्य हो जाएगा ’’

पीसीबी अध्यक्ष का साथ ही मानना है कि दोनों राष्ट्रों के बीच क्रिकेट दोबारा प्रारम्भ करने में मीडिया को अहम किरदार निभानी चाहिए क्योंकि 2008 से सिर्फ एक द्विपक्षीय दौरा हुआ है यह दौरा दिसंबर 2012  जनवरी 2013 में हुआ था जब पाक दो टी20  तीन एकदिवसीय मैच खेलने के लिए हिंदुस्तान आया था

Loading...
loading...