Wednesday , September 19 2018
Loading...

लंदन में भी सुनाई दी कर्नाटक चुनाव की आहट

लंदन: पीएम नरेंद्र मोदी विदेश दौरे पर हैं पीएम मोदी ने गुरुवार को टेम्स नदी के तट पर स्थित अल्बर्ट एमबैंकमेंट गार्डन्स में 12 वीं सदी के लिंगायत दार्शनिक एवं समाज सुधारक बसवेश्वर की आवक्ष प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए प्रोग्राम का आयोजन द बसवेश्वर फाउंडेशन ने किया था यह ब्रिटेन का गैर सरकारी संगठन है , उसी ने बसवेश्वर की प्रतिमा स्थापित की है इंडियन दार्शनिक  समाज सुधारक बसवेश्वर द्वारा लोकतांत्रिक विचारोंं, सामाजिक न्याय  लैंगिक समानता को बढ़ावा देने के लिए उनके प्रति सम्मान जाहीरकरने के लिए उनकी प्रतिमा स्थापित की गई है कर्नाटक में मई में होने वाले चुनाव में लिंगायत  वीरशैव समुदाय का मतदाताओं के रूप में खासा महत्व है क्योंकि यहां की कुल आबादी में उनकी संख्या 17 प्रतिशत है इन समुदायों को भाजपा का परंपरागत वोटर माना जाता है

Image result for लंदन में भी सुनाई दी कर्नाटक चुनाव की आहट

बसवेश्वर (1134-1168) इंडियन दार्शनिक, समाज सुधारक  राजनेता थे जिन्होंने जातिरहित समाज बनाने का कोशिश किया  जाति तथा धार्मिक भेदभाव के विरूद्धलड़ाई लड़ी हिंदुस्तान बसवेश्वर को लोकतंत्र के अगुवाओं में से एक मानता है इंडियनसंसद में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल के दौरान उनकी प्रतिमा लगाई गई थी बसवेश्वर  इंडियन समाज में उनके सहयोग के प्रति सम्मान जाहीर करते हुए हिंदुस्तान ने सिक्का  डाक टिकट भी जारी किया था

Loading...

उधर, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने 12वीं सदी के समाज सुधारक बसवेश्वरा की जयंती (बसवा जयंती) पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया कर्नाटक में 12 मई को होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले शाह दो दिनों के बेंगलुरू दौरे पर हैं भाजपा विधानसभा चुनाव से पहले लिंगायतों  वीरशैवा लिंगायतों को ‘धार्मिक अल्पसंख्यक’ के तौर पर मान्यता देने संबंधी सिद्धरमैया गवर्नमेंट के कदम की आलोचना कर रही है. उसका कहना है कि यह हिंदू समुदाय को बांटने का कोशिश है राज्य कैबिनेट ने गत 19 मार्च को लिंगायतों वीरशैवा लिंगायतों को धार्मिक अल्पसंख्यक के तौर पर मान्यता देने के लिए केंद्र गवर्नमेंटसे अनुशंसा की थी

loading...
Loading...
loading...