Wednesday , April 25 2018
Loading...

नवाज शरीफ के ‘न्यायपालिका विरोधी’ भाषणों के प्रसारण पर 15 दिन की पाबंदी

लाहौर: पाक की एक न्यायालय ने सोमवार को राष्ट्र की इलेक्ट्रानिक मीडिया निगरानी संस्था को आदेश दिया कि टीवी चैनलों को अपदस्थ पीएम नवाज शरीफ , उनकी बेटी मरियम नवाज  उनके अन्य सहयोगियों के न्यायपालिका विरोधी भाषणों के प्रसारण से रोका जाए

Image result for नवाज शरीफ के ‘न्यायपालिका विरोधी’ भाषणों के प्रसारण पर 15 दिन की पाबंदी

क्या हुआ न्यायालय में?
न्यायमूर्ति मजाहिर अली नकवी की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने पाक मीडिया नियामक प्राधिकरण को कथित अवमाननापूर्ण भाषणों के विषय में लंबित शिकायतों पर 15 दिन में निर्णयकरने तथा एक ढांचा तैयार करने का आदेश दिया   न्यायालय ने शरीफ की तरफ से अधिवक्ता ए के डोगर द्वारा दायर वह आवेदन खारिज कर दिया जिसमें आग्रह किया गया था कि न्यायमूर्ति नकवी पूर्ण पीठ से खुद को अलग कर लें

एक अदालती ऑफिसर ने बोला कि न्यायालय ने प्राधिकरण को न्यायपालिका विरोधी भाषणों के प्रसारण के विषय में टीवी चैनलों की कड़ाई से निगरानी करने तथा 15 दिन बाद रिपोर्ट सौंपने का आदेश भी दियाउन्होंने बोला कि पीठ ने इस मामले में न्यायालय के क्षेत्राधिकार को चुनौती देने वाली शरीफ की याचिका खारिज कर दी

यह भी पढ़ें:   चाइना ने हिंदुस्तान से कहा- सीमा मुद्दे को तूल देने से बचें
Loading...
loading...

भ्रष्टाचार के तीन मामलों का सामना कर रहे हैं शरीफ 
शरीफ (68) करप्शन रोधी न्यायालय में पनामा पेपर मामले से संबंधित करप्शन के तीन मामलों का सामना कर रहे हैं उच्चतम कोर्ट ने पिछले वर्ष जुलाई में उन्हें अयोग्य ठहराते हुए इस्तीफे के लिए मजबूर किया थाशरीफ ने करप्शन के आरोपों को राजनीतिक रूप से प्रेरित बताकर खारिज किया था

 

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...