Wednesday , April 25 2018
Loading...

न्यायालय ने DGCA से कहा- आंख मूंदकर अंतर्राष्ट्रीय नियमों को न अपनाएं

मुंबई: बंबई न्यायालय ने बोला कि नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) को हवाई सुरक्षा पर अंतर्राष्ट्रीय दिशानिर्देशों को आंख मूंदकर नहीं अपनाना चाहिए  अपनी स्वतंत्र समझ का प्रयोगकर यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए न्यायमूर्ति नरेश पाटिल  न्यायमूर्ति जीएस कुलकर्णी की पीठ ने डीजीसीए से बोला कि वह इस बारे में उचित कदम उठाए जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि इंडिगो एयरलाइंस  गो एयर के प्रभावित विमान महत्वपूर्ण सुरक्षा मानदंड हासिल कर सकें पीठ शहर के निवासी हरीश अग्रवाल की जनहित याचिका की सुनवाई कर रही है

Image result for न्यायालय

याचिका में नागर विमानन अधिकारियों को ए 320 नियो विमानों में प्रैट  व्हिटनी इंजनों के बारे में समुचित आदेश देने की अपील की गई है न्यायालय ने यह आदेश तब दिया जबकि केंद्र गवर्नमेंटकी ओर से पेश अलावा सालिसिटर जनरल अनिल सिंह ने पीठ को बताया कि वह इस बारे में डीजीसीए द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट है

यह भी पढ़ें:   दिसंबर में चालू हो सकता है स्टेशन रोड फ्लाईओवर
Loading...
loading...

सिंह ने न्यायालय में हलफनामा देकर बोला कि डीजीसीए ने उन सभी विमानों को खड़ा करने का आदेशदिया है जिनका एक या अधिक पीएंडडब्ल्यू इंजन प्रभावित है पीठ ने गवर्नमेंट से पूछा कि क्या वह यह सुनिश्चित कर रही है कि सभी ए 320 नियो विमानों में सुरक्षित इंजनों का प्रयोग हो रहा है पीएंडडब्ल्यू इंजन की स्थान लगाए जा रहे नए इंजन उड़ान के लिए कितने सुरक्षित हैं न्यायालय ने बोला कि आंख मूंदकर अंतर्राष्ट्रीय नियमों को नहीं अपनाया जाए बलिक अपनी समझ का प्रयोग कर यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   सिग्नल से नहीं, मोबाइल कॉल से चलती है ट्रेन
Loading...
loading...