Wednesday , September 19 2018
Loading...
Breaking News

5 रुपए में जरूरतमंदों को भरपेट भोजन देती है “दादी की रसोई”

नोएडा सेक्टर-17 एवं सेक्टर- 29 में दादी की रसोई के दो स्टॉल चलते हैं, जहां मात्र 5 रुपए में देसी घी में बना स्वादिष्ट खाना मिलता है. इस महंगाई के समय में 5 रुपए में खाना मिलना किसी वरदान से कम नहीं है. यह रसोई अनूप खन्ना द्वारा चलायी जाती है जो एक समाज सेवी हैं  जरूरतमंदों की मदद करते हैं. दादी की रसोई प्रतिदिन सेक्टर-17 में प्रातः काल 10 से 11:30 बजे तक एवं सेक्टर- 29 में दोपहर 12 से 2 बजे तक चलती है, जहां कई लोगों को भरपेट खाना मिलता है.

स्टॉल के सामने प्रतिदिन लंबी लाइन लगती है जिसमें छात्र, कामकाजी, रिक्शा खींचने वाले से लेकर, कई दुकान के मालिक एवं राहगीर भी लगते हैं. इस रसोई में लोग अपने जन्महिन  सालगिराह जैसे खास मौकों पर भोजन का प्रबंध करते हैं. खन्ना स्टॉल में प्रयोग होने वाली सामग्रियों के लिए रोजाना3500 रुपए खर्च करते हैं. इस रसोई में यह विशेष ध्यान रखा जाता है की लोगों को भरपेट खाना मिले. दादी की रसोई एक सामाजिक काम है इसलिए खन्ना को सब्जीवाले एवं राशन वाले भी मंडी के दाम पर ही सामान देते हैं.

दादी की रसोई की खास बात यह भी है कि यहां वर्ष के 365 दिन जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध किया जाता है. “रजनीगन्धा पर्ल्स” अनूप खन्ना के समाज के लिए किये गए सहयोग का सम्मान करता है. उनके द्वारा प्रारम्भ की गई “दादी की रसोई” की खासियत की चमक ही है, जो उन्हें पर्ल्स ऑफ इंडिया बनाती है. “पर्ल्स ऑफ इंडिया” रजनीगन्धा सिल्वर पर्ल्स द्वारा हिंदुस्तान के आम लोगों द्वारा किए गए निःस्वार्थ एवं भलाई के कामों को उजागर करने का एक उल्लेखनीय कोशिशहै.

Loading...
Loading...
loading...