Thursday , November 15 2018
Loading...

बेटी को उपहार के रूप में भूलकर भी ना दें गणेश जी की मूर्ति

बेटी के जन्म लेने के साथ ही माता-पिता उसकी विवाह का सपना देखने लगते हैं भले ही बेटी की विदाई बहुत ही दुख भरी होती है फिर भी माता-पिता उसकी विदाई को एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी मानता हैं मां बाप बेटी की विदाई की रस्मों से लेकर उसको विवाह में दिए जाने वाले उपहारों तक कई योजनाएं बनाते हैं सभी माता-पिता विवाह में अपनी बेटी को बहुत सारे उपहार देते हैं पर क्या आपको पता है कि बेटी की विदाई के समय दिए जाने वाले उपहारों की भी बहुत सारे नियम होते हैं

Image result for बेटी को उपहार के रूप में भूलकर भी ना दें गणेश जी की मूर्ति

शास्त्रों में बताया गया है कि बेटियां लक्ष्मी का रुप होती है वही गणेश जी  घर की लक्ष्मी का एक साथ होना धन  खुशहाली का इशारा होता है कभी भी बेटी की विदाई में गणेशजी की मूर्ति को उपहार के रूप में नहीं देना चाहिए गणेशजी की पूजा किसी भी शुभ काम की आरंभ में की जाती हैइसलिए माता पिता बेटे को अपने नए ज़िंदगी की आरंभ के लिए गणेश जी की मूर्ति उपहार के रूप में दे सकते हैं पर अगर माता-पिता बेटी को विदाई के वक्त गणेश जी की मूर्ति उपहार के रूप में देते हैं, तो इससे मायके में कंगाली आ सकती है

Loading...

विदाई के समय बेटी को गणेश जी की मूर्ति देने से घर की सुख समृद्धि  सौभाग्य बेटी के साथ ही चला जाता है जिससे मायके के घर में सुख शांति  खुशहाली पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है

loading...
Loading...
loading...