Wednesday , September 26 2018
Loading...
Breaking News

सबसे तीखी मिर्च खाने के बाद आदमी को अस्पताल में कराना पड़ा भर्ती

पेरिस: विश्व की सबसे तीखी मिर्च खाने के बाद एक आदमी के सिर में इतना भयानक दर्द हुआ कि उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा चिकित्सों ने विभिन्न मिर्चों के प्रयोग को लेकर सतर्क रहने की चेतावनी दी है मेडिकल जर्नल ‘बीएमजे केस रिपोर्ट्स’ में प्रकाशित एक आलेख के मुताबिक साल2016 में 34 वर्षीय आदमी ने तीखी मिर्च से जुड़ी एक प्रतियोगिता में भाग लेते हुए एक कैरोलिनारीपर खा लिया था  रपट में बोला गया है कि मिर्च खाने के तुरंत बाद आदमी के गर्दन सिर में भयानक दर्द प्रारम्भ हो गया

Image result for विश्व की सबसे तीखी मिर्च

उसे अगले कई दिनों तक थोड़े-थोड़े समय के लिए ही सही लेकिन भयंकर सिर दर्द से जूझना पड़ाआदमी को तब आपात चिकित्सा कक्ष में भर्ती कराना पड़ा था हालांकि उसकी तंत्रिका संबंधी जांच के परिणाम सामान्य रहे अंत में चिकित्सकों ने आदमी को ‘रिवर्सेबल सेरेब्रल व्हासोकोनट्रक्शन सिंड्रोम ’ ( आरसीवीएस ) से पीड़ित पाया इसमें कुछ समय के लिए मस्तिष्क में रक्त वाहिकाएं संकुचित हो जाती हैं

Loading...

लेखकों ने बोला कि यह पहला वाकया है जब मिर्च खाने के कारण किसी आदमी में आरसीवीएस की शिकायत पाई गई अध्ययन में शामिल डेट्रॉयट स्थित हेनरी फोर्ड अस्पताल के चिकित्सककुलोथुंगन गुणासेकरन ने बोला , ‘‘ यह सबके लिए स्तब्धकारी था ’’  उन्होंने मिर्च को लेकर सतर्क रहने की चेतावनी दी है

loading...

इंडियन प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास के शोधार्थियों का कहना है कि मिर्च के तीखेपन के लिए जिम्मेदार यौगिक प्रॉस्टेट ग्रंथि में कैंसर की कोशिकाओं को मारने वाला साबित हो सकता हैशोध करने वालों ने अपने अध्ययन में पाया कि मिर्च के यौगिक कैप्सकिन की मदद से एक दिन ऐसा इंजेक्शन या दवा की गोली बनेगी जो कैंसर से बचाने वाली साबित होगी

शोध करने वाले अशोक कुमार मिश्रा  जितेंद्रिया स्वैन ने पाया कि इस यौगिक की ऊंची मात्रा कोशिकीय झिल्ली को तोड़ने वाली साबित हो सकती है  यहीं से कैंसर के इलाज का रास्ता निकल सकता है करीब 10 वर्ष पहले शोधार्थियों ने पाया था कि कैप्सकिन चूहों में प्रॉस्टेट कैंसर सेल को मारने वाला साबित हुआ जबकि अन्य स्वस्थ कोशिकाएं इससे अछूती रहीं

Loading...
loading...