Monday , November 19 2018
Loading...

भाजपा MLA का भाई अतुल सेंगर गिरफ्तार

उन्नाव मामले में यूपी डीजीपी ओपी सिंह ने बयान जारी कर कहा है कि भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह सेंगर को गिरफ्तार कर लिया गया है। दुष्कर्म पीड़िता के पिता से मारपीट करने के आरोप में उसे गिरफ्तार किया गया है। डीजीपी का कहना है कि अतुल सिंह के खिलाफ साक्ष्य मिले हैं, जिसके आधार पर उन्हें अरेस्ट किया गया है।

Image result for भाजपा MLA का भाई अतुल सेंगर गिरफ्तार

डीजीपी ने कहा है कि यूपी पुलिस ने कोई लापरवाही नहीं की है। जिन पांच पुलिसकर्मियों की हीलाहवाली मिली, उन्हें सस्पेंड किया जा चुका है। लखनऊ क्राइम ब्रांच मामले की गहनता से जांच कर रही है। जो भी दोषी सामने आएंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Loading...

मालूम हो कि उन्नाव के बांगरमऊ से विधायक कुल्दीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की सोमवार तड़के जेल में मौत हो गई थी। पीड़ित परिवार ने विधायक और उसके भाई पर मारपीट का आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी पिटाई से ही पिता की मौत हुई है।

loading...

आरोप है कि विधायक और उनके भाई केस वापस लेने का दबाव बना रहे थे। ऐसा न करने पर पीड़िता के पिता को 3 अप्रैल को जमकर पीटा था। पीड़ित परिवार ने ये भी आरोप लगाया था कि मारपीट करने वाले अतुल सिंह के खिलाफ शिकायत की गई तो पुलिस ने पिटने वाले पिता को ही जेल में डाल दिया था।
RELATED
उन्नाव दुष्कर्म के आरोपी विधायक को सीएम योगी ने किया तलब, बोले-किसी को बख्शा नहीं जाएगा
BJP MLA CASE: अखिलेश ने सीएम योगी पर साधा निशाना तो कुलदीप सेंगर ने कही ये बात
उन्नाव की घटना पर अमित शाह ने योगी आदित्यनाथ से फोन पर की बात, मांगा पूरा ब्योरा
सीएम ने विधायक को किया था तलब
आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर
आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर
इस घटना में चारों तरफ से घिरने के बाद सीएम योगी ने सोमवार शाम दुष्कर्म के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को तलब किया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से राजधानी में मुलाकात कर विधायक ने अपनी सफाई पेश की। इशके बाद मीडिया से उन्होंने कहा कि यह उनके खिलाफ साजिश है। वह किसी भी जांच के लिए तैयार हैं। उनके ऊपर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं।

वहीं, इस मामले पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि मामले की जल्द से जल्द जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

ये था मामला

उन्नाव के माखी थाना क्षेत्र की रहने वाली युवती ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप लगाया था कि जून 2017 में विधायक ने उसे बंधक बनाकर कई बार रेप किया था। यहीं नहीं, विधायक ने अपने गुर्गों से भी रेप कराया। पीड़िता ने थाने में आरोपी विधायक के खिलाफ तहरीर दी, तो पुलिस ने कार्रवाई नहीं की और उसे टरका दिया। रविवार को पीड़ित परिवार ने प्रशासन के रवैये से दुखी होकर सीएम आवास पर आत्मदाह का प्रयास किया था।
विपक्ष हमलावर

इस मामले में अखिलेश यादव ने ट्वीट कर सीएम योगी से इस्तीफा मांग लिया। अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह की कोशिश करने वाली दुष्कर्म की पीड़िता के पिता की ‘पुलिस कस्टडी’ में दर्दनाक मृत्यु दुखदायी है। इसकी उच्चस्तरीय निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. महिलाओं के मान की रक्षा के लिए नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए।

वहीं, राहुल गांधी ने ट्वीट किया था कि ‘बेटी बचाओ-खुद मारे जाओ’। उन्होंने ट्वीट में आगे लिखा, ‘एक युवती भाजपा MLA पर बलात्कार का आरोप लगाती है| MLA को गिरफ्तार करने के बजाय पुलिस युवती के पिता को हिरासत में ले लेती है| उसके तुरंत बाद पुलिस कस्टडी में उनकी मृत्यु हो जाती है|वहीँ आरोपी भाजपा विधायक अभी भी खुले घूम रहे हैं|’

Loading...
loading...