Wednesday , September 19 2018
Loading...

इधर-उधर बिखरे मासूमों के अंग

हिमाचल के कागड़ा जिले के नूरपुर के पास मलकवाल-ठेहड़ लिंक रोड पर चेली गांव में व्यक्तिगतस्कूल बस (एचपी 38 सी 6280) के 700 फीट गहरी खाई में गिरने से करीब 23 बच्चों समेत 27 की मौत हो गई है.
Image result for इधर-उधर बिखरे मासूमों के अंग
इनमें ड्राइवर  स्कूल की शिक्षिका की भी मौत हो गई है. रेस्क्यू ऑपरेशन देर रात तक चला रहा.पांच बच्चे टांडा रेफर किए गए हैं.
बताया जा रहा है कि सामने से आ रही बाइक को बचाने के चक्कर में चालक स्टेयरिंग पर से नियंत्रण खो बैठा  बस खाई में गिर गई.
पुलिस जानकारी के अनुसार गुरचाल गांव वजीर राम सिंह पठानिया मेमोरियल पब्लिक हाई स्कूल की बस दोपहर करीब 3 बजे छुट्टी के बाद बच्चों को घरों में छोड़ने के लिए निकली.
बस ने अभी एक ही बच्चे को मलकवाल में उतारा था कि करीब 3:15 बजे चेली गांव में एक्सीडेंट हो गया. चेली गांव चंबा  कांगड़ा जिलों की सीमा के नजदाक है. हादसे में बस चकनाचूर हो गई.
मलकवाल  आसपास के गांवों के लोगों ने सबसे पहले रेस्क्यू प्रारम्भ कर टैक्सियों  व्यक्तिगतगाड़ियों में घायल बच्चों को नूरपुर अस्पताल पहुंचाया.
इसके बाद नूरपुर से एनडीआरएफ की टीम ने भी रेस्क्यू आपरेशन का मोर्चा संभाल लिया. मुख्यमंत्रीजयराम ठाकुर ने हादसे की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं.
वहीं डीसी कांगड़ा संदीप कुमार ने मृतक बच्चों के परिवारों को पांच लाख रुपये की फौरी राहत प्रदान की है. नूरपुर के विधायक राकेश पठानिया, एसडीएम आबिद हुसैन सादिक मौके पर मौजूद रहे. डीसी कांगड़ा संदीप कुमार  एसपी कांगड़ा संतोष पटियाल ने अस्पताल में पूरी व्यवस्था का जिम्मा संभाला. धारा 279 और 304 के तहत पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.
Loading...
loading...