Sunday , November 18 2018
Loading...
Breaking News

उदित राज- दलितों के साथ हो रहे अन्याय पर ध्यान दे पार्टी व केंद्र गवर्नमेंट

भारत बंद के दौरान भड़की हिंसा के दौरान दलितों को निशाना बनाये जाने के मामले पर भाजपासांसद उदित राज ने बयान दिया है. उन्होंने बोला कि वह पार्टी  गवर्नमेंट से यह अपील करते हैं कि वह इस मामले पर फौरन कार्रवाई करें.
Image result for उदित राज

उदित ने बोला कि वह ऐसे दलित नेताओं में से नहीं हैं जोकि अपनों के ऊपर हो रहे अत्याचार पर भी शांत रहें. जो लोग सही समय पर पार्टी से कार्रवाई करने के बारे में नहीं कह रहे हैं वो स्वार्थी हैं. 2.5 वर्षपहले मैंने बोला था कि दलित नाराज हो रहे हैं.

उन्होंने बोला कि 2 अप्रैल को दलितों ने बड़े स्तर पर आंदोलन किया. इस आंदोलन में जो दलित शामिल थे उन्हें निशाना बनाया जा रहा है  झूठे केसों में फंसाया जा रहा है. उन्हें बुरी तरह पीटा भी जा रहा है. यह चिंता का विषय है .

Loading...

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि उदित राज ने शनिवार को बोला था कि दो अप्रैल को हिंदुस्तान बंद के दौरान भड़की हिंसा के बाद से दलित समुदाय के लोगों पर अत्याचार किया जा रहा है. राष्ट्र के कई हिस्सों से ऐसी सूचनाएं मिल रही हैं.

loading...

उन्होंने बोला था, ‘बाड़मेर, जालौर, जयपुर, ग्वालियर, मेरठ, बुलंदशहर, करोली  दूसरे कई हिस्सों से दलितों से मारपीट करने  उन पर झूठे मुकदमे करने की शिकायतें मिल रही हैं. खास बात यह है कि उदित राज ने जिन जगहों का नाम लिया है, वे सभी बीजेपी शासित राज्यों में हैं.

बताते चलें कि दलित सांसदों की नाराजगी से दिल्ली में सरगर्मियां बढ़ गयी हैं. पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई बड़े नेताओं से मुलाकात की है. कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बैठक में दलित मुद्दे पर भी चर्चा हुई है.

Loading...
loading...