Sunday , November 18 2018
Loading...
Breaking News

बेटी ने विवाह के छह दिन पहले पिता से तोहफे में मांगा शौचालय

छह दिन बाद पराये घर जाने वाली बेटी ने जब पिता से घर में शौचालय बनाने की मांग रखी, तो वे उसकी ख़्वाहिश को टाल नहीं सके. उन्होंने न केवल हामी भरी बल्कि यह संकल्प भी लिया कि बेटी की विवाह में आने वाले मेहमानों को भी अपने-अपने घरों में शौचालय बनाने के लिए प्रेरित करेंगे. पिता ने घर में शौचालय का निर्माण प्रारम्भकरवा दिय  बेटी ने ही पहली गेती चलाकर उसकी आरंभ की.
Image result for तोहफे में मांगा शौचालय

यह प्रेरक मामला ग्राम पंचायत बोड़ायता का है. स्‍वच्‍छ हिंदुस्तान अभियान की निगरानी समिति के सदस्यों के साथ फीडबैक फाउंडेशन के राजेश शुक्रवार प्रातः काल ग्राम के जगदीश कटारा के घर पहुंचे, तो वहां उनकी बेटी शांता की विवाह की तैयारियां चल रही थीं. 5वीं तक पढ़ी शांता की विवाह 12 अप्रैल को पास के गांव कसारबर्डी में राकेश शोभाराम डोडिया से होने वाली है.

उन्होंने शांता से पहला सवाल किया कि क्या तुम्हारे घर में शौचालय है. नहीं में जवाब मिलने पर उन्होंने उससे ससुराल के बारे में पूछा. जब शांता ने बताया कि ससुराल में सभी शिक्षित हैं, तो शौचालय नहीं होने का प्रश्न ही नहीं उठता. इस पर उन्होंने शांता को अपने घर में भी शौचालय बनवाने को कहा. होने वाला पति राकेश खेती  मिस्त्री का कार्य करता है  10वीं तक पढ़ा है.

Loading...

ससुराल में कैसे बताऊंगी

loading...

समझाइश का शांता पर ऐसा प्रभाव हुआ कि उसने पिता के सामने घर में शौचालय बनवाने की मांग रख दी. उसने पिता से बोला कि ‘ससुराल में जाकर कैसे बताऊंगी कि मेरे घर में शौचालय तक नहीं है.” जल्दी ही पराए घर जाने वाली बेटी की बात पिता कैसे टालते, उन्होंने तत्काल हां कर दी.

शुक्रवार प्रातः काल घर में शौचालय निर्माण शुरुआत हो गया, जिसकी आरंभ कटारा ने शांता के हाथों से करवाई. शांता ने ग्रामीणों से भी अपील कि है कि वे भी अपने घर में शौचालय का निर्माण कर उपयोग करें.

Loading...
loading...