X
    Categories: पोल खोलराष्ट्रीय

अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट में परिवर्तन को लेकर चल रहे टकराव के बीच, PM मोदी पर हमला

 अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट में परिवर्तन को लेकर चल रहे टकराव के बीच एक  दलित नेता ने पीएमनरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने पीएम पर आरोप लगाया कि उनकी गवर्नमेंट में पिछले चार वर्ष में दलितों के लिए एक भी कार्य नहीं हुआ इस चिट्ठी में दलित नेता ने पीएम मोदी से एससी/एसटी एक्ट में न्यायालय के निर्णय के विरूद्ध पैरवी करने  दलित समाज के हितों को विशेष ध्यान रखते हुए बिल पास कराने की मांग भी की है इससे पहले यूपी के तीन दलित भाजपा सांसद भी मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ पीएम मोदी की आलोचना करते हुए लेटर लिख चुके हैं

दलितों के हित के लिए केंद्र गवर्नमेंट ने कुछ नहीं किया
यूपी के नगीना से सांसद डॉ यशवंत सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखते हुए आरक्षण को ज़िंदगी दायिनी हवा बताया उन्होंने बोला इसके बिना हिंदुस्तान में दलित समाज पिछड़े वर्ग का कोई अस्तित्व नहीं रह जाएगा सांसद ने लिखा, मैं दलित समाज के जाटव समाज का एक सांसद हूं आरक्षण के कारण ही मैं सांसद बन पाया हूं जब मैं चुनकर आया था उसी समय मैंने स्वयं आपसे मिलकर प्रमोशन में आरक्षण हेतु बिल पास करवाने का अनुरोध किया था समाज के विभिन्न संगठन दिन-रात इस तरह के अनुरोध करते हैं, लेकिन चार वर्ष बीत जाने के बाद भी इस राष्ट्र के करीब 30 करोड़ दलितों के हित के लिए आपकी गवर्नमेंट ने एक भी कार्य नहीं किया

हमारे अधिकारों को समाप्त कर रहा कोर्ट
अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट में परिवर्तन को लेकर भी सांसद डॉ यशवंत सिंह ने चिट्ठी में अपनी राय रखी उन्होंने लिखा, न्यायालय में इस समाज का कोई प्रतिनित्व नहीं है, जिस वजह से न्यायालय हर समय हमारे खिलाफ नए-नए फैसला देकर हमारे अधिकारों को समाप्त कर रहा है इस राष्ट्र की 70 फीसदी संपत्ति एक फीसदी लोगों के पास है जो गवर्नमेंट का संरक्षण प्राप्त करते हैं  25 फीसदी आबादी पर शायद आधा फीसदी भी राष्ट्र की संपत्ति न हो ये समाज गवर्नमेंट की अच्छी नीति के बगैर तरक्की नहीं कर सकता

Loading...

आरक्षण बिल पास करवाने की गुहार
सांसद ने अपनी चिट्ठी में पीएम मोदी को उनका सम्बोधन याद दिलाते हुए आरक्षण बिल पास करवाने के गुहार लगाई उन्होंने लिखा, हम जब सांसद चुनकर आए थे तो आपका सम्बोधन सुना था, जिसमें आपने बोला था कि ये गवर्नमेंट गरीबों, दलितों, वंचितों की गवर्नमेंट है ये सुन हमारा दिल खुश हो गया था आज की स्थिति में हम बीजेपी के दलित सांसद अपने समाज की रोज-रोज की प्रताड़ना के शिकार हैं कृपया दलित समाज के हितों का विशेष ध्यान रखते हुए आरक्षण बिल पास कराएं बैकलॉग की भर्तियां निकलवाएं, उन्हें भरवाएं  प्राइवेट नौकरियों में भी आरक्षण लागू कराए तथा एससी/एसटी एक्ट में न्यायालय के निर्णय के विरूद्ध पैरवी करके इस फैसला को पलटवाएं

loading...
Loading...
News Room :