Saturday , November 17 2018
Loading...

इसरो दूसरा सैटेलाइट 12 अप्रैल को लॉन्च करेगा

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान (इसरो) को पिछले दिनों लॉन्च किए गए सैटेलाइट जीसैट-6ए का संपर्क वैज्ञानिकों से टूटने से झटका लगा है लेकिन इस असफलता को दूर करने के लिए इसरो अपनी दूसरी नेविगेशन सैटेलाइट आईआरएनएसएस-1एल को 12 अप्रैल को लॉन्च करने की तैयारियों में जुट गया है

 

आपको जानकारी दे दें कि आईआरएनएसएस-1एल को श्रीहरिकोटा से पीएसएल्वी-सी41 के जरिए लॉन्च किया जाएगा यह बेकार हो चुकी नेविगेशन सैटेलाइट आईआरएनएसएस-1ए का जगहलेगी जो दो वर्ष पहले बंद हो चुकी थी आईआरएनएसएस-1ए को लोकेशन डाटा प्राप्त करने के लिए लॉन्च किया गया था बता दें कि गत साल 31 अगस्त को भी इसरो ने बेकार सैटेलाइट की स्थान आईआरएनएसएस-1एच को लॉन्च करने की प्रयास की थी लेकिन सफलता नहीं मिली थी

Loading...

इस बारे में इसरो के अध्यक्ष चिकित्सक के सिवान ने बोला कि जीसैट-6ए के साथ संपर्क टूटने का असर आईआरएनएसएस-1एल के लॉन्च पर नहीं पड़ेगा इसरो की एक टीम जहां जीसैट से दोबारा संपर्क साधने की प्रयास कर रही है जबकि दूसरी टीम नेविगेशन सैटेलाइट को लॉन्च करने की तैयारियों में लगी हुई है सैटेलाइट जीसैट-6ए का संपर्क 48 घंटे बाद ही टूटने से वैज्ञानिकों के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है इसे सेना के लिए कम्युनिकेशन सैटेलाइट माना जा रहा था

loading...
Loading...
loading...