X
    Categories: कारोबार

PNGRB ने बदले रिटेल लाइसेंस के नियम

रिटेल पेट्रोलियम मार्केट विनियामक पीएनजीआरबी ने सीएनजी तथा पाइप के जरिए घरों तक रसोई गैस (पीएनजी) के वितरण के लिए लाइसेंस प्रक्रिया के बोली मानदंडों में बड़े परिवर्तन का निर्णय किया है. नियामक ने यह निर्णय एक पैसे की बोली लगाए जाने के कारण शुरुआती नीलामी प्रक्रिया बिगड़ने के बाद किया है.

पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैल रेगुलेशन बोर्ड (पीएनजीआरबी) ने नए नियमनों को आज जारी कर दिया है. पीएनजीआरबी ने बोला कि भविष्य में होने वाली नीलामी प्रक्रियाओं में कंपनियों से यह बताने के लिए बोला जाएगा कि वो परिचालन के अगले आठ वर्षों में कितने सीएनजी स्टेशन स्थापित करेंगी.इसमें जो भी कंपनियां ज्यादा संख्या में सीएनजी आउटलेट्ल को कोट करेंगी  पीएनजी कनेक्शन देंगी उन्हें ज्यादा अंक दिए जाएंगे. जो भी टैरिफ उन पर लागू होगा वो शहर के भीतर सीएनजी परिवहन तथा पीएनजी उपलब्ध करवाए जाने के लिए होगा.

Loading...

इससे पहले लाइसेंस हासिल करने के लिए निर्णायक मानदंड यह था कि इस टैरिफ को 10 फीसद वेटेज दिया जाएगा. हालांकि नियामक पीएनजीआरबी ने पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस रेगुलेटरी बोर्ड नियमन, 2018 में जो भी संशोधन किए हैं उसके मुताबिक सीएनजी स्टेशन तथा पीएनजी कनेक्शन की संख्या को बोली प्रक्रिया में 70 फीसद का वेटेज दिया जाएगा. इसके अलावा, बोली लगाने वालों को यह भी उल्लेख करना होगा कि लाइसेंस पाने पर वे कितनी पाइपलाइन रखेंगे.जानकारी के लिए आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि पीएनजीआरबी ने अबतक आठ दौर की बोली आयोजित की है.

loading...
Loading...
News Room :

Comments are closed.