Saturday , November 17 2018
Loading...

पड़ोसियों से बिगड़ते हिंदुस्तान के रिश्ते

माले: एक के बाद एक पडोसी देश, हिंदुस्तान से दूरियां बनाते जा रहे हैं, बाहर संबंध बेहतर करने की चाहत में हिंदुस्तान अपने पड़ोसी मुल्कों के रवैये को नज़रअंदाज़ कर रहा है एक समय हिंदुस्तानको अपना मुक्तिदाक्ता मानने वाला द्वीप राष्ट्र मालदीव, आज हिंदुस्तान द्वारा तोहफे में दिए गए हेलीकाप्टर को भी वापस लौटा रहा है दरअसल हिंदुस्तान गवर्नमेंट ने मालदीव को 2 नौसेना हेलिकॉप्टर तोहफे के तौर पर दिए थे जिसका प्रयोग वह अपने द्वीपों की निगरानी के लिए करता है

Related image

सूत्रों के मुताबिक मालदीव ने एक हेलिकॉप्टर को लौटाते हुए बोला कि वह हिंदुस्तान के ध्रुव अडवॉन्स्ड लाइट हेलिकॉप्टर (एएलएच) की बजाय डॉर्नियर मैरिटाइम सर्विलान्स एयरक्राप्ट चाहता है जिस हेलिकॉप्टर को मालदीव लौटाना चाहता है वह अद्दू द्वीप पर ऑपरेट करता है हालांकि हिंदुस्तान गवर्नमेंट मालदीव की अब्दुल्ला यमीन गवर्नमेंट के साथ वार्ता कर रही है मालदीव के सरकारी सूत्र के हवाले से बोला गया कि समुद्र की निगरानी के लिए मालदीव ‘डॉर्नियर’ हेलिकॉप्टर चाहता था लेकिन हिंदुस्तान ने उसे हल्के वजन का आधुनिक ‘ध्रुव’ हेलिकॉप्टर भेंट किया था

Loading...

इसी ध्रुव हेलीकॉप्टर को उसने लौटाने की पेशकश की है, वहीं सूत्रों के अनुसार मालदीव लामू द्वीप पर ऑपरेट कर रहे दूसरे इंडियन हेलिकॉप्टर को भी वापस देने के बारे में सोच रहा है बता दें कि मालदीव की मौजूदा अब्दुल्ला यामीन गवर्नमेंट को चाइना का करीबी माना जाता है, आपातकाल के समय भी मालदीव ने हिंदुस्तान को नज़रअंदाज़ कर चाइना  पाक में शांतिदूत भेजे थे

loading...
Loading...
loading...