Friday , September 21 2018
Loading...

नाबालिग प्यार बना जान का दुश्मन

उत्तरप्रदेश:​नाबालिग लड़कियों का आपस में प्यार इतना महंगा पड़ा की दोनों को अपनी जान देना पड़ी छठी कक्षा में पढ़ने वाली दो सहेलियों की आपस में दोस्ती इतनी गहरी हो गई कि दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं  घर से भाग गईं लेकिन परिजनों ने दोनों को भागलपुर स्टेशन से पकड़ लिया घर लाने के बाद दोनों को मिलने पर पाबंदी लगा दी गई तो दोनों ने एक ही दुपट्टे से फंदा बनाकर फांसी लगा ली

Image result for लड़कियों का नाबालिग प्यार बना जान का दुश्मन

मामला ककवारा स्थित विशुवाटांड़ गांव का है पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है जानकारी के अनुसार विशेश्वर दास की पुत्री मनीषा (15)  राजेंद्र दास की पुत्री कंचन कुमारी (14) गोहकारा प्राथमिक विद्यालय में छठी कक्षा में पढ़ती थीं इसी दौरान दोनों के बीच गहरी मित्रता हो गई 15 फरवरी को दोनों सहेलियां मौके का लाभ उठाकर घर से भाग निकली थीं इसी दिन शाम में दोनों को भागलपुर स्टेशन से बरामद किया गया घर आने के बाद परिजन ने दोनों के मिलने पर पाबंदी लगा दी थी बावजूद, परिवार की नजर बचाकर दोनों मिल-जुल लेती थीं रविवार देर रात को भी दोनों ने साथ ही खाना खाया  एक ही कमरे में वार्ता करती हुईं सो गईं

Loading...

इसके बाद प्रातः काल दोनों की डेड बॉडी पेड़ से दुपट्टे के सहारे लटकी हुई मिली ग्रामीणों का कहना है कि दोनों ने खुदकशी की है थाना अध्यक्ष राकेश रंजन  एसआइ पवन कुमार ने मौके पर पहुंचकर मामले में आवश्यक पड़ताल की थाना अध्यक्ष ने बताया कि मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है बावजूद, पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है

loading...
Loading...
loading...