X
    Categories: अंतर्राष्ट्रीय

राष्ट्रपति की पार्टी अविश्वास प्रस्ताव का करेगी समर्थन

कोलंबो: श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरीसेना की पार्टी ने सांसत में फंसे पीएम रानिल विक्रमसिंघे को औपचारिक तौर से सूचित कर दिया कि वह संयुक्त विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव की हिमायत करेगी विक्रमसिंघे(68) सिरीसेना की श्रीलंका फ्रीडम पार्टी( एसएलएफपी) के साथ साझेदारी में राष्ट्रीय एकता गवर्नमेंट का नेतृत्व कर रहे हैं   कल संसद में अविश्वास प्रस्ताव का सामना करेंगेअश्विवास प्रस्ताव पर रात सेही प्रमुख नेताओं के बीच चर्चा का सिलसिला जारी है राजनीतिक सूत्रों ने बताया कि वरिष्ठ एसएलएफपी नेता एवं विमानन मंत्री निमल सिरीपाला डे सिल्वा ने पीएम को आज प्रातः काल पार्टी के फैसला से अवगत करा दिया है

कल आने वाले प्रस्ताव को स्पीकर कारू जयसूर्या को संयुक्त विपक्ष ने पिछले महीने सौंपा थासंयुक्त विपक्ष ने विक्रमसिंघे पर आर्थिक कुप्रबंधन  पिछले महीने मध्य कैंडी जिले में मुस्लिम विरोधी दंगों से निपटने में नाकाम रहने का आरोप लगाया है एसएलएफपी ने आज प्रातः काल बोलाकि पीएम को प्रस्ताव का सामना करने के बजाय त्याग पत्र दे देना चाहिए

Loading...

विक्रमसिंघे की यूनाइटिड नेशनल पार्टी( यूएनपी) के एक प्रवक्ता ने बोला कि पीएम ने इस्तीफा देने से मना कर दिया है यूएनपी नेता  राज्य मंत्री हर्ष डी सिल्वा ने कहा, ‘‘ हम कल प्रस्ताव को शिकस्त देंगे ’’ सिरीसेना चाहते हैं कि विक्रमसिघे हट जाएं ताकि वह अपनी पसंद के आदमी को पीएम बना सकें

loading...

संयुक्त विपक्ष लाएगा अविश्वास प्रस्ताव
श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंद्रा राजपक्षे के समर्थन वाला संयुक्त विपक्ष पीएम रानील विक्रमसिंघे के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव लेकर आया है संयुक्त विपक्ष (जेओ) के सांसद रंजीत सोयसा ने शनिवार को बोला कि 68 वर्षीय विक्रमसिंघे के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव अगले हफ्ते सदन की कार्रवाई प्रारम्भ होने के बाद संसद के अध्यक्ष को सौंपा जाएगा वहीं राजपक्षे ने बोला कि वह गवर्नमेंट गिराने के करीब हैं जेओ ने बताया कि अविश्वास प्रस्ताव में विक्रमसिंघे के विरूद्ध पिछले तीन साल में किए गए आर्थिक कुप्रबंध का आरोप भी शामिल है हाल ही में विक्रमसिंघे को मध्य कैंडी जिले में हिंसा भड़कने के बाद कानून एवं विधि मंत्री के पद से हटा दिया गया था

Loading...
News Room :

Comments are closed.