Wednesday , September 19 2018
Loading...

पांच सालों के टीवी और डिजिटल अधिकारों की लगेगी बोली

मुंबई, .भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) 2018 से लेकर 2023 तक के दौरान हिंदुस्तान में होने वाली द्विपक्षीय सीरीज के लिए मंगलवार को पहली बार ई-नीलामी प्रक्रिया के जरिये मीडिया अधिकारों को बेचेगा. बीसीसीआइ इंडियन क्रिकेट टीम के सभी मैचों के प्रसारण के लिए परंपरागत लिफाफा बंद नीलामी प्रक्रिया से मीडिया अधिकार बेचता है, लेकिन यह पहली बार है जब वह इतनी बड़ी प्रक्रिया को औनलाइन करने जा रहा है. बीसीसीआइ के कामकाजों की देखरेख के लिए सुप्रीम न्यायालय द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) ने पहली बार अरबों रुपयों के करार की इस प्रक्रिया को औनलाइन करने का निर्णय इसलिए लिया ताकि इस प्रक्रिया में पारदर्शिता के साथ करप्शन को दूर रखा जा सके.

Image result for bcci

बीसीसीआइ ग्लोबल टीवी अधिकारों के साथ शेष विश्व एकादश (आरओडब्ल्यू) के डिजिटल अधिकार पैकेज, इंडियन उपमहाद्वीप डिजिटल अधिकार पैकेज  संयुक्त अधिकार पैकेज के रूप में तीन मुख्य वर्गों में मीडिया अधिकारों की नीलामी करेगा.

Loading...

बीसीसीआइ ने 2018-19 सत्र के लिए इस नीलामी में हर मैच के लिए आधार मूल्य 43 करोड़ रुपये रखी है. इसमें टीवी  आरओडब्ल्यू अधिकारों के लिए 35 करोड़  डिजिटल अधिकारों के लिए आठ करोड़ आधार मूल्य रखे गए हैं. वहीं, 2019 से लेकर 2023 तक टीवी के लिए प्रति मैच 40 करोड़, जबकि डिजिटल के लिए सात करोड़ रुपये रिजर्व प्राइस के तौर पर बीसीसीआइ ने रखे हैं.

loading...

भारत अपने घरेलू मैदानों पर अगले पांच सालों में 22 टेस्ट, 42 वनडे  38 टी-20 मुकाबले आयोजित करने जा रहा है जिसको ध्यान में रखकर संसार की शीर्ष छह कंपनियां इस नीलामी प्रक्रिया में भाग लेने के लिए तैयार हैं. प्रसारण अधिकारों के लिए स्टार, सोनी  जियो के अतिरिक्तयप टीवी दावेदारी पेश करेंगे, जबकि डिजिटल अधिकारों के लिए फेसबुक  गूगल जोर-आजमाइश करेंगे. स्टार पहले ही भारतीय प्रीमियर लीग के टीवी  डिजिटल अधिकारों को रिकॉर्ड 16347 करोड़ की बोली लगाकर अपने नाम कर चुका है.

Loading...
loading...