Wednesday , November 14 2018
Loading...

Bharat 22 ETF की दूसरी किश्त जारी करेगी सरकार

गवर्नमेंट ने हिंदुस्तान 22 ईटीएफ की दूसरी श्रृंखला जारी करने का निर्णय कर लिया है. इसके दूसरे चरण के आइसीआइसीआइ प्रूडेंशियल म्युचुअल फंड ने ड्राफ्ट पेपर्स फाइल कर दिये हैं. इसकी पहली श्रृंखला 14 नवंबर से 17 नवंबर तक खोली गई थी. इसके जरिए गवर्नमेंट ने 14500 करोड़ रुपये जुटाए थे. यह ईटीएफ 22 ब्लूचिप कंपनियों का एक डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो होगा.

 

आइसीआइसीआइ प्रूडेंशियल म्युचुअल फंड इस ईटीएफ को मैनेज कर रहा है. इसने मार्केट नियामक सेबी के पास अनुसरण ऑन ऑफर के लिए ड्राफ्ट पेपर्स फाइल कर दिये हैं. यह जानकारी सेबी के पास फाइल किये गये डॉक्यूमेंट्स के अनुसार है.

Loading...

यह श्रृंखला वित्त 2019 की पहली ईटीएफ ऑफरिंग हैं, जहां गवर्नमेंट ने पीएसयू विनिवेश के जरिए 80,000 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है. भारत-22 ईटीएफ में सीपीएसई, पीएसयू बैंक गवर्नमेंट की हिस्सेदारी वाली व्यक्तिगत ब्लू चिप कंपनियां जिनमें लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी), एक्सिस बैंक  आईटीसी के शेयर्स शामिल हैं.

loading...

सराकरी कंपनियों के शेयर्स अर्थव्यवस्था के छह कोर सेक्टर्स को दर्शाता है- जिनमें फाइनेंस, इंडस्ट्री, एनर्जी, यूटिलिटीज, एफएमसीजी  बेस मेटेरियल शामिल है. इससे इंडेस्क ब्रोड बेस्ड डायवर्सिफाइड बनता है.

जो पीएसयू हिंदुस्तान ईटीएफ 22 का भाग हैं उनमें ओएनजीसी, आईओसी, एशबीआई, बीपीसीएल, कोल इंडिया  नाल्को शामिल है.

लिस्ट में जो अन्य सीपीएसई हैं उनमें हिंदुस्तान इलेक्ट्रॉनिक्स, इंजिनियर इंडिया, एनबीसीसी, एनटीपीसी, एनएचपीसी, एसजेवीएनएल, गेल, पीजीसीआईएल  एनएलसी इंडिया शामिल हैं.इसमें केवल तीन पब्लिक सेक्टर बैंक हैं जिनमें एसबीआई, भारतीय बैंक  बैंक ऑफ बड़ौदा शामिल हैं.

Loading...
loading...