Wednesday , September 19 2018
Loading...

फरवरी में जीएसटी संग्रह बढ़कर 90,000 करोड़ रुपये हुआ

नई दिल्ली : के तहत फरवरी में कुल राजस्व संग्रह 89,264 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले महीने से 1,217 करोड़ रुपये ज्यादा है ने सोमवार को यह जानकारी दी पिछले हफ्ते वित्त मंत्रालय ने फरवरी के GST संग्रहण के शुरुआती आंकड़े पेश किए थे, जिनमें जनवरी की तुलना में 1,144 करोड़ की कमी दर्ज की गई थी उन आंकड़ों के अनुसार फरवरी में राजस्व संग्रह 85,174 करोड़ रुपये था

Image result for हसमुख अधिया

हसमुख अधिया ने कहा, ‘आमतौर पर ये आंकड़े हर माह की 24  26 तारीख को जारी किए जाते हैं, लेकिन वित्त साल के अंतिम माह के आंकड़े प्रारंभिक आंकड़ों से कुछ हजार करोड़ ज्यादा हो जाते हैं‘ उन्होंने बोला कि फरवरी के GST संग्रह (मार्च में एकत्रित किया गया) औसत खज़ाना में वृद्धि दर्शाता है अब हम 90,000 करोड़ के आंकड़े पर हैं गवर्नमेंट द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, जनवरी में GST संग्रह 88,047 करोड़ रहा था, वहीं दिसंबर में यह 88,929 करोड़ रहा था

Loading...

वित्त सचिव ने बोला कि फरवरी में बढ़े संग्रह के लिए GST का अनुपालन बढ़ने को  वित्त साल का आखिरी महीना होने के कारण लोगों में पिछले सभी बकाया करों को जमा करने की प्रवृत्ति को दर्शाता है उन्होंने बोला कि राजस्व के हिसाब से यह साल अनियमितताओं से भरा होने के बावजूद गवर्नमेंट इस वित्त साल में प्रत्यक्ष  अप्रत्यक्ष कर लक्ष्यों को पूरा करने में सफल रही

loading...

उन्होंने बोला कि हम अगले वित्त लक्ष्य के लिए आश्वस्त हैं वित्त सचिव ने ई-वे बिल की आरंभ को बहुत पास बताते हुए बोला कि इस दर पर गवर्नमेंट जल्द ही वस्तुओं के लिए एक राज्यस्तरीय अभियान चलाएगी उन्होंने कहा, “हम 15 अप्रैल से राज्यों के पहले समूह के लिए एक राज्यस्तरीय ई-वे बिल प्रारम्भ करने की योजना बना रहे हैं इसके बाद अन्य समूहों के राज्यों को प्रत्येक हफ्तेजोड़ा जाएगा ”

Loading...
loading...