X
    Categories: अंतर्राष्ट्रीय

इजरायली सैनिकों के साथ प्रयत्न में घायल फिलिस्तीन की मौत

गाजा सिटी:ने बोला है कि बीते शुक्रवार को बड़े पैमाने पर हुए एक प्रदर्शन के दौरान हुई झड़प में इजराइली सुरक्षा बलों की गोलियों का शिकार हुए एक  फिलिस्तीन  शख्स ने सोमवार को दम तोड़ दिया, जिसके बाद इस घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हो गई सेहत मंत्रालय ने बोला कि दक्षिणी गाजा के खान यूनिस के पूर्वी हिस्से में हुई झड़प में फरीस अल- रकीब(29) को पेट में गोली मारी गई थी हालिया वर्षों के कुछ बड़े प्रदर्शनों में से एक बताए जा रहे शुक्रवार के प्रदर्शन में लाखों लोगों ने भाग लिया था

प्रदर्शन के दौरान हुई झड़पों में सैकड़ों लोग जख्मी हुए कई लोग आग से झुलस गए इसके बाद यूरोपीय संघ  संयुक्त देश महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने स्वतंत्र जांच की मांग की थी इजराइल ने शुक्रवार को अपने सैनिकों की ओर से की गई कार्रवाई का बचाव किया है सुरक्षा बलों ने मुख्य प्रदर्शन स्थल से अलग हुए फलस्तीनियों पर गोलियां चलाई थी

पर पथराव करने वालों, बम फेंकने वालों  जलते टायरें फेंकने वालों पर गोलियां चलाई गई थी इजराइल ने गजा को संचालित करने वाले इस्लामी संगठन हमास पर आरोप लगाया कि वह हिंसा को अंजाम देने के लिए प्रदर्शन को ढाल बना रहा है

संयुक्त देश चाहता था गाजा हिंसा की जांच
संयुक्त देश के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने इजरायली सेना के साथ प्रयत्न में 16 फिलिस्तीनियों के मारे जाने तथा इसमें सौ से अधिक लोगों के जख्मी होने के बाद मामले में ‘‘स्वतंत्र  पारदर्शी’’ जांच का आह्वान किया था गाजा पट्टी में इजरायल  फिलिस्तीन के बीच हिंसा बढ़ने की संभावना पर संयुक्त देश में सुनवाई के दौरान उन्होंने यह अपील की थी

गुतारेस के उप प्रवक्ता फरहान हक ने बीते 30 मार्च को बयान जारी कर बोला था, ‘‘महासचिव ने इन घटनाओं की स्वतंत्र  पारदर्शी जांच की अपील की है ’’ उन्होंने बोला था कि विश्व निकाय शांति प्रयासों को फिर से प्रारम्भ करने के लिए ‘‘तैयार है ’’ हक ने बोला कि गुतारेस ने ‘‘संबंधित पक्षों से अपील की कि ऐसी कोई कार्रवाई नहीं करें जिससे कोई हताहत हो  खासकर नागरिकों को किसी तरीके से नुकसान पहुंचे ’’ उल्लेखनीय है कि गाजा सीमा पर इजरायली सुरक्षा बलों के साथ प्रयत्न में 16 फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई थी

Loading...

प्रदर्शनकारी भूमि दिवस (लैंड डे) के मौके पर प्रदर्शन कर रहे थे सेहत मंत्रालय के प्रवक्ता ने यह जानकारी दी प्रवक्ता ने खबर एजेंसी एफे से बोला था कि हमास द्वारा शुक्रवार (30 मार्च) को भूमि दिवस पर आहूत किए गए प्रदर्शन के दौरान करीब 2000 अन्य फिलीस्तीनी घायल हो गए प्रदर्शनकारी फिलिस्तीनी शरणार्थियों और उनके वंशजों के अपने राष्ट्र लौटने की अनुमति देने की मांग कर रहे थे

loading...
Loading...
News Room :

Comments are closed.