Thursday , September 20 2018
Loading...
Breaking News

जासूस को जहर देना ब्रिटेन गवर्नमेंट के लिए लाभकारी

मास्को: ने बोला कि पूर्व डबल एजेंट को जहर देना ब्रिटेन के लिए लाभकारी हो सकता है, जो ब्रेक्जिट से उत्पन्न हुई परेशानियों से ध्यान भटका सकता है इंग्लैंड के सैलिसबरी शहर में चार मार्च को सेर्गेई स्क्रीपल  उनकी बेटी को जहर दिया गया था जिसके बाद पाश्चात्य राष्ट्रों  रूस ने एक-दूसरे के राजनयिकों को निकालने की कार्रवाई हुई इससे इन राष्ट्रों के बीच संबंध शीत युद्ध के बाद सबसे बेकार दौर में चले गए लावरोव ने मास्को में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ यह ब्रिटिश गवर्नमेंट के हित में हो सकता है जो ब्रेक्जिट की शर्तों को लेकर अपने मतदाताओं से किए वायदों को पूरा करने में नाकाम होने के बाद खुद को असहज स्थिति में पाता है ’’

Image result for ब्रिटेन

उन्होंने यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने का हवाला दिया है लावरोव ने यह भी बोला कि स्क्रीपल  उनकी बेटी को जहर देना ब्रिटेन के विशेष बलों के हित में हो सकता है जो मारने की अपनी क्षमताओं के लिए जाने जाते हैं विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘ कई कारण हो सकते हैं  किसी को भी खारिज नहीं किया जा सकता है  ’’

 

ब्रिटेन ने बोला था कि यूएसएसआर में तैयार इस रासायनिक जहर से हमला करने के लिए रूस के जिम्मेदार होने की बहुत ज्यादा आसार है  ब्रिटेन के इस रूख का उसके पश्चिमी सहयोगियों ने समर्थन किया है रूस ने इसमें अपनी संलिप्तता से मना किया है  ब्रिटेन से प्रयोग जहर के नमूने मांगे थे

आपको बता दें कि 7 मार्च की समाचार के मुताबिक एक पूर्व रूसी जासूस को किसी अज्ञात संदिग्‍ध वस्तु के संपर्क में आने की वजह से गंभीर हालत में अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था विल्टशायर पुलिस ने बोला कि 60 से ज्यादा की आयु का एक पुरुष  30 वर्ष से ज्यादा आयु की एक महिला 5 मार्च (रविवार) दोपहर सेलिसबरी शहर के माल्टिंग्स शॉपिंग सेंटर में एक बेंच पर बेसुध पड़े मिले दोनों के बॉडी पर किसी तरह की चोट के निशान नहीं थे सुरक्षा ऑफिसर क्रेग होल्डन ने बोला कि हो सकता है कि दोनों एक दूसरे को जानते हों दोनों की ही हालत गंभीर बनी हुई है

Loading...

डीप कवर स्‍लीपर एजेंट
यह मामला इसलिए बड़ा है क्‍योंकि पूर्व रूसी जासूस सर्गेई स्क्रिपल(66) उन चार रूसी लोगों में से एक है जिसे 2010 में मॉस्को ने अमेरिका में 10 डीप कवर ‘स्लीपर’ एजेंट के तौर पर बदला था उसके बाद इसे ब्रिटेन में शरणार्थी का दर्जा दे दिया गया था स्क्रिपल रूसी सैन्य खुफिया ऑफिसर के पद से सेवानिवृत हुए थे उन्हें ब्रिटेन के लिए जासूसी करने के आरोप में रूस ने 2006 में 13 वर्ष के कारागार की सजा सुनाई थी

loading...
Loading...
loading...