Tuesday , November 13 2018
Loading...
Breaking News

डीजल-पेट्रोल जल्द ही GST के दायरे में

डीजल की मूल्य ऐतिहासिक रूप से शीर्ष स्तर पर पहुंचने  पेट्रोल की मूल्य पांच साल के उच्चतम स्तर पर चले जाने के बीच केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र मुख्य ने बोला है कि गवर्नमेंट की प्रयास जल्द ही इन्हें चीज एवं सेवा कर (जीएसटी) के दायरे में लाने की है. यदि ऐसा होता है, तो दोनों ईंधन अपने आप सस्ते हो जाएंगे.
Image result for डीजल-पेट्रोल जल्द ही GST के दायरे में

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हिंदुस्तान स्टेज (बीएस) छह मानक के पेट्रोल  डीजल की बिक्री प्रारम्भकरने के बाद संवाददाताओं से वार्ता में मुख्य ने बोला कि दोनों ईंधनों की मूल्य बढ़ने पर गवर्नमेंट भी उतनी ही चिंतित है, जितने  ग्राहक. लेकिन इनकी मूल्य कम करने के लिए तत्काल कुछ नहीं किया जा सकता है. लेकिन इन्हें GST के दायरे में लाने की प्रयास धीरे-धीरे रंग लाती दिखती है. उनके मुताबिक, इस विषय पर पहले GST परिषद कोई बात सुनने को तैयार नहीं था, लेकिन अब इस पर चर्चा की सहमति बढ़ रही है. उन्होंने बोला कि हमने अपील की है कि GST परिषद में इससे संबंधित प्रस्ताव लाकर इसे पारित कराया जाए. गवर्नमेंट के लिए ग्राहकों का हित सर्वोपरि है, लेकिन उसे सभी पक्ष को देखना पड़ता है.

पेट्रो इंधनों पर ज्यादा कर लगाना मजबूरी

Loading...

मुख्य का कहना है कि राज्यों को कल्याण के सौ कार्य करने पड़ते हैं  उनके पास संसाधनों की कमी होती है, इसलिए उसके लिए पेट्रो ईंधनों पर ज्यादा कर लगाकर राजस्व जुटाना पड़ रहा है. इसके लिए भी कोई भी तरीका ढूंढा जाएगा, ताकि ये ईंधन GST के दायरे में आ जाएं.
उल्लेखनीय है कि इस समय पेट्रोल तथा डीजल समेत कुछ वस्तुओं को GST के दायरे से अलग रखा गया है. GST की सूची में किसी भी तब्दीली के लिए केंद्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता वाली GSTपरिषद से इस आशय का प्रस्ताव पारित होना जरूरी है.

loading...

कीमतें तय करने में गवर्नमेंट की किरदार नहीं

मुख्य का कहना है कि घरेलू मार्केट में पेट्रोल  डीजल की कीमतें तय करने में गवर्नमेंट की कोई किरदार नहीं है. पिछले वर्ष जून से ही ऑयल विपणन करने वाली सरकारी कंपनियां इसे दैनिक आधार पर तय करती हैं. घरेलू मार्केट में दोनों ईंधनों की कीमतें तय करने में अंतरराष्ट्रीय मार्केट की कीमतों को आधार बनाया जा रहा है. उनका कहना है कि पिछले कुछ दिनों से अंतरराष्ट्रीय मार्केट में कच्चे ऑयल का दाम 70 डॉलर के ऊपर चला गया है, इसलिए कीमतें बढ़ रही हैं.

सोमवार को भी कीमतें बढ़ीं 

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार को पेट्रोल की मूल्य एक दिन पहले के मुकाबले 10 पैसे बढ़कर 73.83 रुपये प्रति लीटर पर थी, जो 14 सितंबर, 2013 के बाद का सर्वाधिक स्तर है. उस समय पेट्रोल की मूल्य 76.06 रुपये पर पहुंच गई थी. इसी तरह सोमवार को डीजल की मूल्य भी 11 पैैसे प्रति लीटर चढ़कर प्रति लीटर 64.69 रुपये पर पहुंची, जो अब तक का सर्वाधिक स्तर है.

Loading...
loading...