Saturday , November 17 2018
Loading...

पीएम ने सुनी बीमार के मन की बात

मन की बात करने वाले पीएम नरेंद्र मोदी ने एंकायलूजिंग स्पॉन्डिलाइटिस जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीज के मन की बात सुनी है. पीड़ित के लेटर का संज्ञान लेते हुए उन्होंने केंद्रीय सेहतमंत्रालय को इस पर उचित कदम उठाने को बोला है.
Image result for पीएम ने सुनी बीमार के मन की बात

पीड़ित ने पीएम को दो दिन पहले लेटर लिखते हुए इस बीमारी की भयावहता  उपचार के लिए मदद मांगी थी. अमर उजाला ने इस समाचार को प्रमुखता से प्रकाशित भी किया था. पीएम ऑफिस ने लेटर को केंद्रीय सेहत मंत्रालय भेज दिया है. इस पर संज्ञान लेने के लिए मंत्रालय की संयुक्त सचिव गायत्री मिश्रा को जिम्मेदारी सौंपी गई है. हालांकि गायत्री मिश्रा ने बताया कि उन्हें अभी लेटर प्राप्त नहीं हुआ है. पीएमओ से लेटर मिलने के बाद वह उस पर उचित कार्रवाई करेंगी. इस पर मंडावली एरिया निवासी 28 वर्षीय मरीज अंकुर ने पीएम का आभार जाहीर किया.

अंकुर लंबे समय से एंकायलूजिंग स्पॉन्डिलाइटिस नामक बीमारी से पीड़ित हैं. इस बीमारी के कारण मरीज एक तरह से विकलांगता का ज़िंदगी जीने लगता है. इसका इलाज न तो सरकारी अस्पताल में उपलब्ध है  न ही प्राइवेट अस्पताल में हर किसी के लिए. बीमा कंपनियां तक इसे मेडिक्लेम में नहीं रखती हैं.

Loading...

इस बीमारी में दर्द निवारक दवाओं  इंजेक्शन की मूल्य करीब 20 से 30 हजार रुपये तक है. ऐसे में पूरे उपचार की बात करें तो प्राइवेट अस्पताल में करीब 20 से 30 लाख रुपये का खर्चा आता है. जबकि राष्ट्र में हर साल करीब 20 से 25 हजार युवा इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं. इन्हीं समस्याओं को अंकुर ने पीएम को लिखे लेटर में साझा किया था.

loading...
Loading...
loading...