Saturday , February 16 2019
Loading...

लगेगा ‘देशद्रोही’ व ‘हिंदू-विरोधी’ का ठप्पा: शिवसेना

करप्शन के विरूद्ध आंदोलन की जरूरत संबंधी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर शिवसेना ने बीजेपी  संघ को कटघरे में खड़ा कर दिया है. उसने पूछा कि क्या अब आरएसएस प्रमुख पर भी ‘देशद्रोही’  ‘हिंदू-विरोधी’ होने का ठप्पा लगेगा.
Image result for शिवसेना

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में सोमवार को बोला कि भागवत ने उसी मुद्दे पर स्पष्ट राय रखी है जिसे शिवसेना उठाती रही है  राष्ट्र के दशा को देखते हुए यह आशा की किरण साबित हो सकती है. आरएसएस सर संघचालक ने संकेत किया है कि प्रशासन निर्बल हुआ है देशभर में करप्शन व्याप्त है. क्या उन पर भी देशद्रोही  हिंदू विरोधी होने का ठप्पा लगेगा? इसमें बोला गया है कि करप्शन पर आवाज उठाने वाली शिवसेना पहली पार्टी थी  अब भागवत ने भी वही मुद्दे उठाए हैं.

बता दें कि भागवत ने 17 वीं शताब्दी के मराठा शासक की पुण्यतिथि पर लोगों को संबोधित करते हुए शिवाजी के शासन का आह्वान किया था. उन्होंने बोला था कि जहां महिला की सुरक्षा की गारंटी नहीं है ऐसे बदलते हुए वक्त का दोषारोपण किस पर किया जाना चाहिए. उन्होंने बोला था कि हिंदुस्तान को करप्शन के विरूद्ध आंदोलन की आवश्यकता है.

loading...