Monday , February 18 2019
Loading...

हिंसक प्रदर्शन में जल उठे 10 राज्य, 12 की मौत

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन पर सुप्रीम न्यायालय के निर्णय के विरोध में सोमवार को दलितों के हिंदुस्तान बंद के दौरान देशभर में जमकर हिंसा हुई, जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई. पुलिस प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों में सौ से अधिक लोग घायल हुए हैं. आंदोलन से सबसे ज्यादा प्रभावित मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, ओडिशा, गुजरात, झारखंड और महाराष्ट्र रहे.

 Image result for हिंसक प्रदर्शन में जल उठे 10 राज्य, 12 की मौत

मध्य प्रदेश के ग्वालियर  भिंड में दो-दो एवं मुरैना और डबरा में एक-एक आदमी की गोली लगने से मौत हो गई. यूपी के मुजफ्फरनगर, मेरठ  फिरोजाबाद में एक-एक तथा राजस्थान के अलवर में एक आदमी की मौत हो गई. बिहार के हाजीपुर  यूपी के बिजनौर में आंदोलनकारियों ने एंबुलेंस का रास्ता रोक दिया जिसके चलते एक नवजात  एक मरीज ने दम तोड़ दिया.

कई राज्यों में परिवहन एवं संचार व्यवस्था पूरी तरह ठप रही. लगभग 100 ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहा. आंदोलनकारियों ने स्थान जगह पर बड़ी संख्या में वाहनों को आग के हवाले कर दिया.दशा बेकाबू होता देख ग्वालियर, मुरैना  भिंड के कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है  सेना बुला ली गई है. राजस्थान के सवाईमाधोपुर गंगापुर सिटी में भी हिंसा के बाद कर्फ्यू लगाया गया है.

केंद्र ने यूपी  मध्य प्रदेश के लिए दंगा-रोधी 800 पुलिस जवानों को तैनात किया है. रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की दो कंपनियां मेरठ  एक-एक कंपनी आगरा तथा हापुड़ में भेजी गई है. मध्य प्रदेश के डबरा में हिंसक भीड़ थाने में घुस गई  एडिशनल एसपी राजेश त्रिपाठी को पीटा. आंदोलन में भड़की हिंसा के बीच गवर्नमेंट  विपक्ष के बीच आरोपों-प्रत्यारोपों का दौर प्रारम्भ हो गया है. बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों द्वारा कुछ जगहों पर फायरिंग किए जाने की भी सूचना है.

राजस्थान में अलावा बलों की 25-30 कंपनियां भेजी गई हैं. बाड़मेर, जालौर, सीकर  अहोर में हिंसक घटनाओं के मद्देनजर धारा 144 लगा दी गई है. कुछ राज्यों में जहां शिक्षण संस्थान इंटरनेट और मोबाइल सेवाएं बंद कर दी गईं. मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार  पंजाब में आगजनी, गोलीबारी  तोड़फोड़ की सबसे ज्यादा घटनाएं हुई हैं.

loading...